मध्य प्रदेश स्टार्टअप नीति!

1- इस स्टार्टअप पॉलिसी का शुभारंभ, वर्चुअली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में 13 मई की शाम 6:30 बजे किया जाएगा!

मध्य प्रदेश स्टार्टअप नीति!

2- मुख्य मंत्री श्री शिवराज ने मंगलवार को मप्र स्टार्टअप नीति की लांचिंग के तहत 13 मई को स्टार्टअप कॉन्क्लेव- 2022 की तैयारियों का जायजा लिया!

मध्य प्रदेश स्टार्टअप नीति!

3- स्टार्टअप सचिव सावन लड्‌ढा ने बताया कि “13 मई को होने वाले मेन इवेंट के पहले 11 मई को शाम 7 बजे एक प्री इवेंट भी आयोजित किया गया है! इसमें अभी तक किसी इवेंट में शामिल नहीं हो पाए 200 स्टार्टअप संचालक शामिल होंगे!”

स्टार्टअप नीति का लक्ष्य क्या है?

1- ऑनलाईन के द्वारा ज्यादा से ज्यादा स्टूडेंट शामिल करने का लक्ष्य होगा!

स्टार्टअप नीति का लक्ष्य क्या है?

2- श्री शिवराज सिंह ने कार्यक्रम से पहले तैयारियों की समीक्षा करते हुए कहा कि “मध्य प्रदेश स्टार्टअप नीति के लांचिंग कार्यक्रम में चिकित्सा शिक्षा, उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा के अधिकाधिक छात्र- छात्राओं को वर्चुअली जोड़कर लाभान्वित किया जाएगा!”

स्टार्टअप नीति का लक्ष्य क्या है?

3- उन्होंने यह भी कहा कि “ प्रदेश के स्टार्टअप पर अधिकाधिक सफलता की कहानियां जारी की जाएंगी, जिससे की अन्य लोगों को मोटिवेशन मिले!”

इससे क्या होगा?

1- केन्द्रीय मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि “इंदौर को स्टार्ट-अप हब बनाने के लिए उपयुक्त जगह का चयन किया गया है!

इससे क्या होगा?

2- साथ ही उन्होंने यह भी कहा की “मध्य प्रदेश में इन्वेस्टर्स के लिए अनेक संभावनाएं मौजूद हैं! इससे राज्य के युवाओं को रोजगार के अधिक अवसर उपलब्ध हो सकेंगे!”

कौन रहेगा मुख्य आकर्षण?

1- एमएसएमई के सचिव श्री पी. नरहरि ने बताया कि स्टार्ट-अप कॉन्क्लेव में स्टार्टअप के क्षेत्र से संबंधित देश के फेमस व्यक्ति शामिल होंगे। 

MSME के बारे  में जानने के लिए हमारी वेबसाईट के लिंक पर क्लिक करें

कौन रहेगा मुख्य आकर्षण?

2- इस कॉन्क्लेव में नीति निर्माता, जन प्रतिनिधि, इनोवेटर्स, स्टार्टअप्स, केंद्र और राज्य के प्रशासक, संभावित उद्यमी, स्टार्टअप ईको- सिस्टम के सभी स्तंभ शामिल होंगे!

कौन रहेगा मुख्य आकर्षण?

3- इसमें मेंटर्स, शिक्षाविद, निवेशक और देश भर के स्टार्टअप ईको- सिस्टम के अन्य सभी स्टेकहोल्डर भी शामिल होंगे।

कितने सत्र होंगे?

कॉन्क्लेव के दौरान 5 सत्र होंगे! 1- एमपीटीआईई के सहयोग से स्पीड मेंटरिंग सत्र होगा! इसमें स्टार्टअप्स, शैक्षणिक संस्थानों तथा स्टार्टअप स्पेस के प्रमुख लीडर्स के साथ मिलेंगे और बातचीत करेंगे!

कितने सत्र होंगे?

2- एक सत्र, स्टार्टअप कैसे शुरू करें? इस पर भी किया जाएगा!

कितने सत्र होंगे?

4- पिचिंग-सत्र में स्टार्टअप इन्वेस्टर्स के साथ सहयोग के अवसरों पर चर्चा और फंडिंग के लिए अपने आइडिया के बारे में जानकारी देंगे!

कितने सत्र होंगे?

5- इकोसिस्टम सपोर्ट-सत्र में प्रतिभागी यह जानेंगे कि उनकी ब्रांड वैल्यू कैसे बढ़ाई जाए? 

बिजनेस से संबंधित अन्य जानकारियों के लिए वेबसाईट के लिंक पर क्लिक करें