Waterproof fabric manufacturing business idea in Hindi | कैसे शुरू करें वाटरप्रूफ कपड़ा बनाने का व्यवसाय?

163

फेब्रिक, वाटरप्रूफ, manufacturing business ideas in Hindi, business manufacturing ideas in Hindi, small manufacturing business ideas in Hindi, how to start waterproof fabric business, fabric business ideas, kapde ka business kaise kare!

कैसे शुरू करें वाटरप्रूफ फेब्रिक बनाने का व्यवसाय? (Waterproof fabric business): Waterproof cloth (जल रोधक कपड़ा) का सबसे ज्यादा इस्तेमाल अधिकतर वर्षा ऋतू के दौरान ही किया जाता है। भारत में जून, जुलाई तथा अगस्त के महीनें में सबसे ज्यादा वर्षा होती है। बारिश के मौसम में हम लोग वाटर प्रूफ फेब्रिक से बनी हुई कई वस्तुओं का इस्तेमाल करते हैं

जैसे की: छाते, रेन कोट, जैकेट, टोपी, बैग, गाड़ियों के कवर, टेंट्स, स्पोर्ट्सवेयर इत्यादि में भी वाटर प्रूफ फेब्रिक का ही इस्तेमाल किया जाता है।

वैश्विक मार्केट में भी इस फैब्रिक की बहुत अधिक मांग है!, इसलिए आप भी इस बिजनेस आइडिया को शुरू कर सकते है!

वाटरप्रूफ फेब्रिक का व्यवसाय बेस्ट बिजनेस आइडिया है! किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले हमें उस व्यवसाय का प्लान तैयार कर लेना चाहिए|

आप इसके लिए यह पोस्ट भी करना पड़ता है।

अगर आप Waterproof cloth (जल रोधक कपड़े) का बिजनेस शुरू करना चाहते है तो यह आपको भारी संख्या में मुनाफा देने वाला बिजनेस साबित होगा।आप छोटे पैमाने पर या बड़े पैमाने पर भी इस व्यवसाय की शुरुआत कर सकते है!

इस आर्टिकल में मैं वाटर प्रूफ फेब्रिक के बिजनेस की हर छोटी-बड़ी बात से अवगत कराने जा रहा हूँ! इससे आपको इस व्यवसाय को चलाने में काफी सहायता मिलेगी! इस बिजनेस प्लान के लिए आपको जगह, मशीन, कच्चामाल, कर्मचारी, वेबसाईट, लाइसेंस, प्रचार तथा लागत की आवश्यकता पड़ेगी| 

इन सभी बातों के अलावा आपको किसी भी प्रोडक्ट की पैकेजिंग पर भी विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए।

जल रोधी कपड़े का व्यवसाय को शुरू करने से पहले आपको इसके अनुरूप (According) लागत  के बारे में अवश्य जान लेना चाहिए| इससे आपको अपने व्यवसाय में होने वाले सभी खर्चों के बारे में अंदाजा लग जाता है!

वाटरप्रूफ फेब्रिक मैन्युफैक्चरिंग बिज़नेस (Manufacturing business ideas in hindi)

waterproof fabric business idea
वाटरप्रूफ फेब्रिक मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस

लागत / निवेश (Investment)

यदि आप इस व्यवसाय की शुरुवात छोटे पैमाने पर करना चाहते हैं तो आपको कम से कम 1 करोड़ रुपए की इन्वेस्टमेंट करनी पड़ेगी!

इस बिजनेस को बड़े पैमाने पर शुरू करने के लिए लगभग 2.5 करोड़ रुपए की लागत की आवश्यकता पड़ेगी!

वाटर प्रूफ फेब्रिक के व्यवसाय में नुकसान

कोई भी बिज़नेस, उनमें नफ़ा और नुकसान दोनों ही देखें जाते है! इसी प्रकार वाटरप्रूफ फेब्रिक मैन्युफैक्चरिंग बिज़नेस में भी नुकसान देखने को मिल सकता है!

यदि आप अपने व्यवसाय के प्रति अपडेट नहीं रहेंगे तो आपको अपने व्यवसाय में नुकसान लगना तय है!

मार्केट में प्रतिदिन कुछ न कुछ नया आता रहता है और आपको भी मार्केट के अनुसार ही अपने बिजनेस को चलाना चाहिए! 

यदि आप मार्केट के साथ नहीं चलते है तो आपको अपने बिजनेस में भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है! इसके अलावा भी आपको अन्य कुछ बातो को भी ध्यान में रखना चाहिए जैसे कि:-

1- वाटर प्रूफ फेब्रिक की गुणवत्ता में कमी होना!

2- वाटर प्रूफ फेब्रिक के बिजनेस के लिए आपका मार्केटिंग सही तरीके दे ना करना!

3- आपके प्रोडक्ट्स के दाम क्वालिटी के हिसाब से मार्केट में सबसे ज्यादा होना!

4- उत्पादित प्रोडक्ट्स का साइज़ और डिजाइन ग्राहको की पसंद के अनुसार न होना!

5- अपने ग्राहकों के सुझावों को अनसुना करने से भी आपके बिजनेस में नुकसान हो सकता है!

यदि आप इस व्यवसाय को शुरू करने का पक्का मन बना चुके है तो, आपको सरकार द्वारा भी पूरी तरह से बिजनेस चलाने में सहयोग मिलता है! जैसे की:- वाटर प्रूफ फेब्रिक कि बिजनेस शुरू करने के लिए योजनाएं, ट्रैनिंग, सब्सिडी, बैंक लोन, इत्यादि का भी पूरा लाभ उठा सकते है!

यह भी देखें:

एसबीआई मुद्रा लोन कैसे लें

बिजनेस लोन 

Water-Proof Fabric Manufacturing business idea (New business manufacturing ideas in Hindi)

वाटरप्रूफ फेब्रिक मैन्युफैक्चरिंग बिज़नेस
Raincoat
waterproof fabric manufacturing business
Umbrella
waterproof fabric business
Waterprof fabric bag

समस्याएं

किसी भी व्यवसाय को शुरुआत करने से पहले तथा बाद में कुछ समस्याएं अवश्य ही देखने को मिलती हैं| यह लगभग एक ही प्रकार की समस्याएं होती है, जैसे की लागत!

इस बिजनेस में लगनेवाली पूँजी के बारे में जो हर कोई व्यक्ति सोचता है! परंतु यह व्यवसाय उन लोगों के लिए ही है, जिनके पास अच्छा-खासा निवेश (investment) करने की क्षमता है!

ऐसा में इसलिए कह रहा हूँ क्योकि इस व्यवसाय में लागत 1 करोड़ से 2.5 करोड़ के रुपए के बीच है, परन्तु यदि आप इस व्यवसाय को करने का पक्का मन बना चुके हैं तो आपको सरकार के द्वारा पूरी तरह से सहयोग मिलेगा!

इसके अंतर्गत आप योजना, सब्सिडी, बैंक लोन आदि का पूरा लाभ उठा सकते है!

इसके अलावा भी आपको कुछ समस्याएं देखने के लिए मिल सकती हैं!

S.NO:समस्या (Problem)हल (solution)
1.यह व्यवसाय लोगों के बीच प्रचारित न होना!
(i) समय का इंतजार करे 1 साल से 3 साल तक(ii) ई बिजनेस करें
2.बिजनेस के लिए रुपया ना जुटा पाना!(i) सरकारी योजनाओं एंव बैंक लोन का सहयोग लें(ii) पार्टनर शिप फर्म पर विचार करेंनोट: पार्टनर शिप फर्म खोलने के फ़ायदे तथा नुकसान क्या होते हैं? इनके बारे में अवश्य जानें
3.बिजनेस में पिछड़ते जाना या लंबे समय तक न चला पाना!अपने बिजनेस के प्रति अपडेट रहें| इसके लिए इंटरनेट तथा सोशल मीडिया पर ऐक्टिव रहें!
4.बिजनेस में मुनाफा ना होना!
कोई भी बिजनेस कुछ समय बाद ही मुनाफा देना शुरू करता है, इसलिए एक समय निर्धारित करें तथा उस समय का इंतजार करें|इसके साथ ही अपने कर्मचारियों तथा प्रतिद्वंदी के साथ अच्छा तालमेल रखें!
5. माल ना बिकना!
मार्केटिंग करेअधिक जानने के लिए पढ़ें:1- E-Marketing कैसे करें?2- बिजनेस के फ्री प्रमोशन कैसे करे 
6.प्रोडक्ट के नाम की नकल अपने प्रोडक्ट को नक्कालों से बचाने बचाने के लिए, अपने प्रोडक्ट के नाम को रजिस्टर्ड तथा ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन अवश्य करवा लेना चाहिए|ज्यादा जानने के लिए पढ़ें:ट्रैड मार्क रजिस्ट्रेशन कैसे होता है
7. मशीन में खराबी!अक्सर जिन व्यवसायों में मशीन का अधिक मात्रा में प्रयोग होता है उनमें खराबी आना तय है|1- अपने पास मशीन कारीगरों तथा पार्ट्स कहाँ से मिलेगा इसकी जानकारी अवश्य रखें|2- मशीनों का इन्श्योरेन्स अवश्य करवाएँ|3- अधिक गारंटी वाली मशीनें ही खरीदें| 
Waterproof cloth manufacturing business plan

वाटर प्रूफ फेब्रिक के व्यवसाय में कर्मचारियों की आवश्यकता

किसी भी बिजनेस को चलाने के लिए आपको कर्मचारियों की आवश्यक पड़ेगी! यह कर्मचारी ही आपके बिजेनस को चलाने में आपका सहयोग करते है! इसलिए इस बिजनेस को चलाने के लिए भी आपको कर्मचारियों की जरूरत पड़ेगी!

यदि आप इस बिजनेस को बड़े पैमाने पर शुरू करते हैं तो आपको 40 से 50 लोगों की आवश्यकता पड़ेगी! इस बिजनेस में दो कर्मचारी तो हमेशा मशीन को ऑपरेट करते रहते हैं! इसमें skilled और non skilled दोनों तरह के कर्मचारियों की जरूरत पड़ती है! शुरुआत में आपको 20-30 कर्मचारियों की जरूरत पड़ेगी!

इसके आलावा अन्य के कामो के लिए भी कर्मचारियों की जरूरत पड़ती रहती है! जैसे की: माल को तैयार करना, पैकेजिंग, लोडिंग, अन लोडिंग व मार्केटिंग करने के लिए भी आपको कर्मचारियों की आवश्यकता पड़ती है!

वाटर प्रूफ फेब्रिक के व्यवसाय के लिए आवश्यक जगह तथा बिजली

पनरोक कपड़े (waterproof clothing) के बिजनेस को करने के लिए लगभग 27000 Sq Ft (3000 गज) से 40500 Sq Ft (4500 गज) में शुरू कर सकते हैं!

इस बिजनेस में उपयोग की जाने वाली ज्यादा तर मशीनें बिजली से ही चलती हैं| इस व्यवसाय में 390-490 KW तक बिजली की खपत होती है!

इसमें 18,000 sqft (2000 गज) से 19,800 sqft (2200 गज) की जगह बतौर उत्पादन, 5985 sqft (665 गज) से 7965 sqft (885 गज) जगह कच्चा माल भंडारण क्षेत्र के तौर पर और 3996 sqft (444 गज) से 4995 sqft (555 गज) जगह तैयार माल को रखने के लिए निर्धारित की जाएगी!

व्यवसाय के लिए लाइसेन्स 

  • GST NUMBER: यदि आप जीएसटी के दायरे में आते हैं या स्वयं की इच्छा से जीएसटी नंबर लेना चाहते हैं तब!
  • FIRE NOC
  • UDYAM
  • POLLUTION NOC
  • MCD LICENSE

MACHINE और EQUIPMENT

  1. Rope Dyeing Machine: रस्सी की रंगाई के लिए
  2. Ball Warping Machine
  3. Water Jet
  4. Sizing Machine
  5. Weaving Machine
  6. Chemical tanks
  7. Coating Machine
  8. Stenter Machine
  9. Water Pumps
  10. Bins
  11. Trolleys
  12. Oil Tank
  13. अन्य मशीने

आप इन मशीनों को बाजार से भी खरीद सकते हैं या फिर ऑनलाइन पोर्टल पर ऑर्डर करके भी आप इन मशीनों की खरीदारी कर सकते हैं!

मशीनो के बारे और अधिक जानकारी आप इन वेबसाइट से ले सकते हैं

https://www.tradeindia.com/

https://www.indiamart.com

वाटर प्रूफ फेब्रिक मैन्युफैक्चरिंग के लिए कच्चा माल

  • धागे (Yarn)
  • Finishing Chemicals
  • Polyvinyl Chloride
  • Color Dyes
  • Coating Chemicals
  • Polyurethane
  • Rubber

वाटर प्रूफ फेब्रिक बनाने की प्रक्रिया (How to make fabric waterproof?)

  1. इस प्रकिया में सबसे पहले धागों (yarn) को रोल किया जाता है!
  2. इसके बाद उन्हें डाइंग (रंगने) के लिए तैयार किया जाता है|
  3. इस प्रकिया के तहत धागों को Ball Warping मशीन में फिट किया जाता है| 
  4. Warping के दौरान जिन धागों का इस्तेमाल हो रहा है, उसे निर्धारित मात्रा में bins पर लपेटा जाता है, ताकि अगली प्रक्रिया में इनका उपयोग किया जा सके|
  5. अगले चरण में यार्न डाइंग (धागे रंगने) की प्रक्रिया होती है इसे Rope Dyeing Machine में फिट किया जाता है!
  6. बोसिंग और स्क्रिविंग करने के बाद इन धागों को डाई किया जाता है|
  7. इसके बाद weaving की प्रक्रिया में लूम्स की सहायता द्वारा फेब्रिक का उत्पादन किया जाता है| जिसमे धागों को ताने-बाने की प्रक्रिया का तहत लपेटा जाता है|
  8. फेब्रिक तैयार होने पर मांग के अनुसार प्रिंटिंग करवाया जाता है| आप डाइंग और प्रिंटिंग का काम अपने यहाँ भी मशीन से भी कर सकते है| यदि आपके पास प्रिंटिंग मशीन नहीं है तो आप इसे जॉब वर्क (दुसरे से) भी करवा सकते है|
  9. अगले चरण में तैयार हो चुके फेब्रिक को वाटर प्रुफ बनाने के लिए फेब्रिक की केमिकल से कोटिंग की जाती है|
  10. आखिरी चरण में इस फेब्रिक को stenter machine द्वारा आकार दिया जाता है|

इस प्रकार यह तैयार फेब्रिक पूरी तरह से वाटर प्रूफ कपडे में बदल जाता है|

पैकेजिंग

पैकेजिंग को किसी भी व्यवसाय का एक महत्वपूर्ण अहम हिस्सा माना जाता है| यह किसी भी बिजनेस को ग्रोथ और  मार्केट में पहचान दिलाने में सहयोग करता है| इनके आलावा भी पैकेजिंग के द्वारा आप अपने प्रोडक्ट को भी अधिक सुंदर और आकर्षक बना सकते है!

ज्यादातर लोग अच्छी पैकेजिंग वाला प्रोडक्ट ही पसंद करते है!  इसलिए आप इस पर विशेष ध्यान दें|

वाटर प्रूफ फेब्रिक का व्यवसाय को ऑनलाइन करे

आजकल हर व्यवसाय डिजिटल होता जा रहा है! अब! अधिकतर उद्यमी अपने व्यवसाय को ऑनलाइन प्लाटफॉर्म्स पर लेकर चले गए हैं क्योकि आज के समय में लोग ऑनलाइन शोपिंग करना ही बहुत अधिक पसंद करते है!

आप भी e- commerce websites से जुड़कर अपने प्रोडक्ट को ज्यादा से ज्यादा संख्या में बेच सकते है!

जैसे की: Flipkart, eBay, Amazon इत्यादि|

यदि आप स्वयं यह कार्य नहीं करना चाहते तो आप इसकीआउटसोर्सिंग भी कर सकते हैं!

अधिक जानने के लिए यह आर्टिकल पढ़ें: आउटसोर्सिंग क्या होती है

वाटर प्रूफ फेब्रिक व्यवसाय में मुनाफा

अब! आते हैं असली मुद्दे पर की आखिर इस व्यवसाय में कितने मुनाफा है? 

तो इसके लिए मैं बताया देता हूँ की वाटर प्रूफ फेब्रिक बिजनेस में प्रॉफिट का दर अधिक है! इसका मुख्य कारण इसकी पूरे विश्व में अधिक मांग का होना है!

यदि आप उच्च गुणवत्तायुक्त फैब्रिक का उत्पादन करेंगे तो आपका माल अधिक मात्रा में बिकेगा और लोगों द्वारा भी इस प्रोडक्ट को अधिक से अधिक रिकमेंड किया जाएगा|

वाटर प्रूफ फेब्रिक के व्यवसाय में मुनाफे का दर 25% से लेकर 35% तक होता है| यह एक बहुत अच्छा प्रॉफ़िट मार्जिन है!

सावधानियाँ

1- बिना वजह के खर्चे ना करें

2- जरूरी इन्श्योरेन्स अवश्य करवाएं जैसे की: Fire insurance, मरीन इन्श्योरेन्स (यदि आप एक्सपोर्ट करते हैं तब!)

3-  business laws की थोड़ी बहुत जानकारी आप अवश्य लें| इसके लिए आप इस वेबसाईट पर business laws की category सर्च करें|

4- 

साथ ही यह भी अवश्य देखें:

कंघी बनाने का बिजनेस कैसे करे

स्वरोजगार लोन योजना

small business ideas list in Hindi

भारत में कंपनी कैसे खोले 

उम्मीद करता हूँ आपको यह पोस्ट “WATERPROOF FABRIC MANUFACTURING NEW BUSINESS IDEAS HINDI (कैसे शुरू करें वाटरप्रूफ कपड़ा बनाने का व्यवसाय?)” अवश्य ही पसंद आयो होगी!

कृपया इस पोस्ट को अधिक से अधिक मात्रा में शेयर अवश्य करें|

बिजनेस idea से संबंधित अगली पोस्ट में फिर मिलेंगे

तब तक के लिए नमस्कार 

धन्यवाद