तकिये बनाने का व्यवसाय कैसे करें? (Pillow Making Business Idea) | Types of Pillow in Hindi

1056

इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको Pillow business की जानकारी दूंगा| इसमें आप को तकिए के प्रकार (Types of Pillow)  तथा अन्य जानकारियां दूंगा जिससे कि आप Pillow की Manufacturing या trading दोनों आसानी से कर सकें|

मैन्युफैक्चरिंग करने के लिए मैं आपको ऐसा तकिया बताऊंगा जिसकी मार्केट में सबसे ज्यादा डिमांड है, साथ ही वह बहुत ही कम लागत में तैयार हो जाता है| 

इस पोस्ट को अच्छी तरह समझने के लिए  सबसे पहले हमें पिलो के सभी प्रकार के बारे में जान लेना चाहिए|

आपकी सुविधा के लिए मैं बता देता हूं कि इस पोस्ट के माध्यम से हम POLYESTER FIBER PILLOW  के बिजनेस के बारे में सीखेंगे|

तो आइए दोस्तों, सबसे पहले शुरू करते हैं! “Types of Pillow” के साथ

Pillow Making Business Idea

Pillow Making Business
Pillow Making Business

Types of Pillow

तकिये बहुत से प्रकार के होते हैं| 

Pillows

1- रुई का तकिया (cotton pillows)

यह तकिया सफेद तथा काली दोनों तरह की रुई से बनता है| काली रुई का तकिया सस्ता होता है| सफेद रूई का तकिया काली रुई के तकिए से थोड़ा महंगा होता है| 

रुई के तकिए के फायदे

(i) यह सस्ता होता है|

(ii) कंफर्टेबल होता है|

(iii) इसमें किसी प्रकार के केमिकल की मिलावट नहीं होती| 

(iv) किसी भी मौसम में इस्तेमाल कर सकते हैं|

(v) शरीर की स्किन को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाता| 

(vi) इससे हमारे कॉटन व्यवसाय को बूस्ट मिलता है| 

रुई के तकिए के नुकसान

(i) फाइबर के तकिए के मुकाबले वजन में भारी होता है| 

(ii) फाइबर के तकिए के मुकाबले थोड़ा सख्त होता है|

(iii) इसमें जल्दी गांठे पड़ने का डर रहता है|

(iv) रुई के सख्त होने पर टूटने का डर रहता है|

2- फोम का तकिया (foam pillow)

फोम का तकिया भी बहुत सारी फोम की क्वालिटी में आता है|

यह 23 डेंसिटी से लेकर 32 डेंसिटी तक में आता है| इसमें सॉफ्टी फोम का इस्तेमाल किया जाता है| 

रूई के तकिए के मुकाबले यह थोड़ा महंगा आता है| 

3- लेटेक्स का तकिया (Latex Pillow)

यह तकिया रूई तथा फ़ोम दोनों प्रकार के तकियों से महंगा आता है|

इसमें फोम के मुकाबले जंपिंग ज्यादा होती है| 

4- मेमोरी फोम का तकिया (Memory foam pillow)

यह तकिया भी महंगा आता है|  मेमोरी फोम का तकिया ऐसा लगता है जैसे गुथे हुए आटे का तकिया बना दिया हो| यह बहुत ही ज्यादा सॉफ्ट होता है| 

5- पंख का तकिया (feather pillow)

आपने कई बार पक्षियों के पंखों का अभी तक क्या देखा होगा|  यह तकिया बहुत ज्यादा  सॉफ्ट होता है|

6- पानी का तकिया (Water pillow)

इस प्रकार के तकिए में पानी भरा होता है|  यह सोने में बहुत अनकंफरटेबल लगता है|  इसमें ठंडा पानी भरने पर ठंडक का अहसास होता है| 

7- हवा का तकिया (Air pillow)

तकिए में हवा भरी होती है| अक्सर टूरिस्ट लोग इस्तेमाल करते हैं क्योंकि यह जगह कम घेरता है|

यह भी सोने में बिल्कुल आरामदायक नहीं होता| 

8- फाइबर का तकिया (POLYESTER FIBER PILLOW)

तो दोस्तों, तकिया इंडस्ट्री में यह सबसे ज्यादा बिकने वाला तकिया है| यह प्राइस में भी बहुत ज्यादा महंगा नहीं पड़ता|  इसको बनाने की प्रक्रिया में आपको स्टेप बाय स्टेप समझा दूंगा,  साथ ही इसमें मैं एक वीडियो भी एम्बेड कर दूंगा, जिससे आप इसको बनाने की विधि अच्छी तरह समझ जाएं| 

(i) साइज

फाइबर के तकिए का तकिए का स्टैंडर्ड साइज 27 इंच X 17 इंच का होता है| 

(ii) मूल्य

यह तकिया मैन्युफैक्चरिंग करने पर सौ से डेढ़ ₹100 के बीच पड़ता है| कीमत में उतार-चढ़ाव फाइबर की क्वालिटी पर निर्धारित किया जाता है|

(iii) वजन

इस तकिए को कंप्लीट बनाने के बाद इसका वजन लगभग 7:30 सौ ग्राम होता है| जिसमें इसका कवर भी वजन में शामिल हो गया है| 

(iv) मार्जिन

यदि आप मैन्युफैक्चर है तो 25 परसेंट मार्जिन ले सकते हैं| यदि आप ट्रेडर हैं तो 20 परसेंट तक मार्जन ले सकते हैं| 

(v) क्वांटिटी

एक बार में, एक रिटेल दुकानदार, लगभग सौ तकिए लेता है|  एक दुकानदार, एक महीने में 500 तकिये तक बेच देता है| इससे आप एक काउंटर द्वारा अपनी बचत का अंदाजा लगा सकते हैं| 

(vi) Raw material

इसका ऊपर का कवर, packing polybag बने बनाए मार्केट से मिल जाते हैं| जैसे दिल्ली में गांधी नगर में

(vii) इन्वेस्मन्ट

इस व्यवसाय को करने में manufacturing में औसत 5 लाख तथा ट्रैडिंग में 2 लाख का खर्चा आपको मानकर चलना चाहिए|

नोट: Manufacturing में मशीन का खर्चा मिलाकर है|

Fiber making business step by step process

आइए!  अब एक-एक करके समझेंगे कि हम किस प्रकार फाइबर के तकिए बनाकर उनका व्यवसाय कर सकते हैं|

सबसे पहले आप इस वीडियो को देखिए| इसे देखने के बाद आप तुरंत ही समझ जाएंगे कि तकिया बनाने का व्यवसाय कितना आसान है|

विडिओ देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें: तकिये कैसे बनाएँ

Step:1

सबसे पहले आपको जगह का इंतजाम करना है| कम से कम 50 का जगह आपके पास होनी चाहिए|

इस जगह पर बिजली का कमर्शियल मीटर लगा होना चाहिए| यदि आप तकिए निर्यात करना चाहते हैं तो आपको इंपोर्ट एक्सपोर्ट कोड भी ले लेना चाहिए| 

Step:2

इसके बाद आपको फाइबर खोलने वाली तथा तकिए में फाइबर भरने वाली मशीन चाहिए| 

Step:3

आपको अपने तकिए के ब्रांड नाम को रजिस्टर्ड करवा लेना चाहिए| 

नाम रजिस्टर्ड करवाने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन कैसे होता है तथा कितनी फीस लगती है?

Step:4

आपको कच्चे माल के लिए कौन conjugate फाइबर चाहिए होगी| मशीन द्वारा यह धुनी जाएगी|

कच्चे माल के लिए आप इंडियामार्ट , ट्रैड इंडिया जैसी वेबसाइट पर ढूंढ सकते हैं|  

नोट: अभी तक सबसे अच्छी फाइबर रिलायंस की आती है| 

Step:5

आपको अपने रजिस्टर्ड किए हुए नाम की पॉलीबैग छपवा लेनी चाहिए|

इससे आपके नाम को कोई कॉपी नहीं कर सकेगा साथ ही आप अपने प्रोडक्ट को एक ब्रांड में बदल सकते हैं| 

Step:6

आपको अपने ग्राहक को इसे पैक करके दे देना है|  

तकिए का होलसेल ग्राहक ढूंढने के लिए आप जस्टि्डायल की मदद ले सकते हैं| 

गद्दे, तथा हैंडलूम वाले भी तकिए रखते हैं, इसलिए आप इन्हें भी अवश्य सर्च करें|

यदि आप ग्राहक ढूंढना चाहते हैं तो इसके लिए आपको यह पोस्ट भी पढ़नी चाहिए: बिज़नेस में ग्राहक कैसे ढूंढे? 

साथ ही यह भी अवश्य देखें

कंपनी एजेंसी बिजनेस कैसे करें?

Hitlon Sheet: बिज़नेस की जानकारी

बिजनेस के लिए वेबसाइट कैसे बनाये?

बिज़नेस लोन कैसे मिलेगा?

उम्मीद करता हूं आपको बिजनेस से संबंधित यह पोस्ट पसंद आई होगी| 

इसमें मैंने तकिया बनाने की विधि तथा तकिये के प्रकार (Types of Pillow) के बारे में बताया है|

एक नई बिजनेस आईडिया के साथ अगली पोस्ट में फिर मिलूंगा तब तक के लिए नमस्कार 

धन्यवाद|