सोफा बनाने का बिजनेस कैसे शुरु करें? | How to start sofa making business

510

दोस्तों, इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको सोफे बनाने का बिज़नेस (sofa making business) कैसे करें? इसके बारे में बताऊंगा| 

सबसे पहले मैं आपको एक चीज क्लियर कर देना चाहता हूं कि इस व्यवसाय को मैंने स्वयं किया है तथा इससे मैंने बहुत प्रॉफिट भी कमाया है| सोफा बनाने (Sofa making) से मेरा मतलब, सोफे के कारीगरों द्वारा बनवा कर बेचने से है|

इसके बारे में मैं मुख्य बिंदु को अंकित करूंगा| जिनकी जरूरत आपको सोफे बनाने का बिज़नेस (sofa making business) में पड़ेगी|

क्योंकि यह टॉपिक “सोफे बनाने का बिज़नेस (sofa making business)” बहुत लंबा है, इसलिए यदि कुछ सवाल रह जाए तो आप मुझसे मेल के माध्यम से पूछ सकते हैं| 

इसमें मैं आपको बताऊंगा कि आपको  यह बिजनेस शुरू करने से पहले क्या-क्या तैयारियां करनी है?, ग्राहक कैसे मिलेगा?, सोफे का साइज कैसे लेते हैं?, सोफा बनाने के लिए किन-किन टूल की आवश्यकता पड़ेगी?,  सोफा बनाने के लिए आपको कितनी नॉलेज चाहिए इत्यादि|

तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं आज का टॉपिक- “सोफे बनाने का बिज़नेस (sofa making business) कैसे करें?”

विषय सूची | Page index

सोफा बनाने का बिजनेस शुरू करने से पहले क्या-क्या तैयारियां करनी है?

किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले हमें कुछ जरूरी तैयारी भी कर लेनी चाहिए|

इन तैयारियों को करने के बाद आप बिजनेस में लगने वाले रिस्क को कम करते चले जाते हैं|

  • कारीगर
  • सोफे के साइज क्या होते हैं?
  • कौन सी लकड़ी ठीक रहेगी?
  • सोफे के कपड़े की जानकारी

कारीगर कैसा होना चाहिए? 

इस व्यवसाय को शुरू करने  के लिए सबसे पहले हमें कुशल कारीगर ढूंढ लेना चाहिए| कारीगर अच्छा होना चाहिए| इसे आप तनख्वाह पर या ठेके पर भी रख सकते हैं|

तनख्वा पर अच्छा कारीगर ₹15000 महीना से ₹20000 महीना के बीच मिलेगा| 

ठेके पर अच्छा करेगा ₹500 सीट के लगभग मिलेगा|  1 सीट कितना होगा इसका विवरण मैं आपको आगे दे रहा हूं|

साथ ही यह भी अवश्य देखें: Mattress Cover: बिज़नेस की सारी जानकारी

सोफे के साइज क्या होते हैं? 

सोफे की डाइमेंशंस को अच्छी तरह समझ लेना चाहिए|

लंबाई:  एक सोफे में स्टैंडर्ड साइज के हिसाब से प्रति 25 इंच एक सीट गिनी जाती है| मान लीजिए आप का सोफा 100 इंची लंबा है तो इसे हम 4 सीट कहेंगे| 

चौड़ाई:  इसे हम गहराई बोले तो ज्यादा अच्छा रहेगा|  एक सोफे की स्टैंडर्ड  गहराई (बाहर से बाहर) 30 इंच होती है, तथा बैठने वाले हिस्से की स्टैंडर्ड गहराई 22 इंच होती है| 

ऊंचाई:  भारत देश में जमीन से लेकर सोफे पर बैठने तक की स्टैंडर्ड ऊंचाई 18 इंच है| 

सोफे की लकड़ी की जानकारी 

इस सोफे बनाने के बिज़नेस (sofa making business) में हम चारों तरफ से कपड़े से ढके हुए सोफे के बारे में बात कर रहे हैं| 

इसके लिए मैं आपको लकड़ी के बारे में बता रहा हूं और ना लगने वाले लकड़ी का कारण भी बताऊंगा|

मरंटी वुड: सागवान के मुकाबले सस्ती होती है, वजन में हल्की होती है, सीधी होती है, मजबूती ठीक-ठाक ही होती है| 

कैल वुड: सस्ती होती है,  कवर्ड सोफे बनाने के लिए ठीक ही रहती है| 

देवदार की लकड़ी (Pine Wood): वजन में  हल्की होती है, सस्ती होती है, सीधी होती है| 

सफेदा वुड (eucalyptus wood):  वजन में भारी होती है,मरंटी वुड से भी सस्ती होती है| सीधी नहीं होती, सूखने के बाद टेढ़ी हो जाती है| बहुत मजबूत होती है|

नीम:  मजबूत होती है,  महंगी होती है,  कीड़ा नहीं लगता|  इसमें सोफे बनाने वाले  आसानी से कि नहीं घुसा पाते यही मेन कारण होता है नीम की लकड़ी न लगाने का| 

सागवान:  यह बहुत अच्छी इमारती लकड़ी होती है| महंगी होती है, कील गाड़ने पर फट जाती है| इसीलिए इसका इस्तेमाल कवर्ड सोफे बनाने के लिए नहीं किया जाता| यह केवल ओपन सोफों में काम आती है|  इस पर पॉलिश करने के बाद यह बहुत अच्छी लगती है|  मजबूती के लिए इसमें चूल सुराग करके ढांचा बनाया जाता है| 

शीशम:  यह भी एक महंगी इमारती लकड़ी है| यह बहुत मजबूत होती है|  इसमें भी कील आसानी से ना कुछ पाने के कारण इसका इस्तेमाल कवर्ड सोफ़े बनाने के लिए नहीं किया जाता|

साथ ही यह भी अवश्य देखें: Pillow making business की सारी जानकारी

सोफे के कपड़े की जानकारी

सबसे पहले तो आपको यह पता होना चाहिए कि सोफ़े में कितना कपड़ा लगेगा?

कितना कपड़ा लगेगा? 

 इसके लिए मैं एक छोटा सा आईडी आपको दे रहा हूं| यह सारी गणनाएँ लगभग में है| 

ऊपर दी गई  डाइमेंशंस के अनुसार पर सीट आप 2 मीटर की एवरेज मान लें|  

यदि सोफा लूज गद्दी वाला है तो आप ढाई मीटर प्रति सीट की एवरेज मान लें|

हैंडल वाली सीटों पर 1 मीटर पति हैंडल के हिसाब से अलग से जोड़ ले| 

सोफे का कपड़ा कहां पर मिलेगा?

सोफे के कपड़े के लिए आप पानीपत, मेरठ,  दिल्ली ( कीर्ति नगर, गांधीनगर,  क्लॉथ मार्केट), सूरत इत्यादि विजिट कर सकते हैं|

आप इंटरनेट पर जस्ट डायल के माध्यम से भी आसानी से सोफे के कपड़े के होलसेलर के बारे में पता कर सकते हैं| 

सोफे में क्या-क्या सामान लगता है?

दोस्तों, अब मैं आपको सोफे में लगने वाले सारे सामान की लिस्ट दे रहा हूं|

  • लकड़ी + प्लाई 
  • कील
  • Wood adhesive
  • टाट
  • स्प्रिंग ( जिगजैग स्प्रिंग) + स्प्रिंग के क्लिप
  • निवाड़
  • पैर/पाये (Leg) 
  • केसमेंट
  • फोम (सोफे की गद्दी, 6X3 की 1 इंच 2 इंच 3 इंच  फोम शीट)
  • सिलोचन  
  • कपड़ा
  • मार्किन 

सोफे बनाने का बिजनेस करने के लिए क्या-क्या सामान चाहिए?

जिन सामानों की मैं लिस्ट दे रहा हूं, उसमें आप कुछ सामान को हटाकर, अपनी शुरुआत थोड़ा सस्ते सामान से कर सकते हैं| 

  • कैटलॉग: सोफे के डिजाइन के लिए किताब/या फिर आप इंटरनेट से भी सोफे के डिजाइन निकाल सकते हैं| 
  • कंप्रेसर: (यह सोफे के ढांचे बनाने के लिए उसमें प्रेशर द्वारा कील गाड़ने के लिए, सिलोचन लगाने के लिए,  कपड़े की मड़ाई के लिए पिन लगाने के लिए)
  • लकड़ी काटने वाला बिजली का कटर, हाथ की आरी
  • हथौड़ी
  • जम्बूर 
  • रंदा मारने की इलेक्ट्रिक मशीन/ या हाथ का रंदा, रंदा मारने के लिए टेबल
  • पेचकस/प्लास 
  • कटर-  फोम काटने के लिए/बड़े वाला छुरा
  • कतिया: इससे जिग जेग स्प्रिंग आसानी से कट जाती है|

सोफे बनाने के बिजनेस में क्या फायदा है? (sofa making business advantages)

  • आसानी से शुरू किया जा सकता है|
  • कंपटीशन बहुत कम है|
  • आपको तथा अन्य लोगों को रोजगार मिलता है|
  • आपको मोटा आर्डर मिलने के चांस हैं जिससे कि आप जल्द ही अपने वित्तीय जरूरतों को पूरा कर सकते हो|  जैसे कि:  होटल, लॉज, हॉस्पिटल, सरकारी दफ्तर इत्यादि का एक बार में बहुत बड़ा आर्डर आपके हाथ में लग सकता है| 
  • मार्जन (प्रॉफिट) अधिक है| 50% का मार्जन बहुत आराम से लिया जा सकता है|
  • बड़े-बड़े आर्डर मिलना आम बात है| 

Sofa making step by step Process

आइए!  इसे थोड़ा और सरल बनाने के लिए मैं कुछ फोटो के माध्यम से आपको इस और अच्छी तरह समझाने की कोशिश करता हूं|

यह सोफे मेरी स्वयं की फैक्ट्री में बनाए गए हैं| 

Step 1: लकड़ी का फ्रेम बनाना

सोफा बनाने के लिए सबसे पहले आपको लकड़ी का फ्रेम बनाना पड़ेगा| इसके लिए आप चाहे तो बाजार से लकड़ी की सिल्ली भी कटवा सकते हैं या फिर अपने साइज पहले से कटी हुई लकड़ी ले सकते हैं|

यह लकड़ी कम से कम 10 फुट लंबी होनी चाहिए|  इसके बाद आप चाहे तो, इस पर बाजार से रंदा लगवा सकते हैं|  रंदा लगवाने से लकड़ी साफ-सुथरी हो जाती है| 

जो लोग लकड़ी बेचते हैं, रंदा लगाने वाले इनके आसपास में अवश्य होते हैं|

Sofa set wooden frame

सोफे के ऊपर फ्रेम में  2 इंची X  2 इंची,  या  2 इंची X  1.5 इंची लकड़ी का इस्तेमाल करना ठीक रहेगा|  इसके नीचे के बेस पर,  जहां पर इसमें पाये लगेंगे, उस फ्रेम को यदि आप मजबूत करना चाहते हैं तो, 3 x 1.5 की लकड़ी का इस्तेमाल करें|

Sofa set complete wooden frame

Step 2: इलास्टिक निवार / जिग जेग स्प्रिंग लगाना 

इसके बाद फ्रेम में इलास्टिक की निवाड़ तथा जिगजाग स्प्रिंग लगानी है| इससे सोफे पर बैठने पर बाउंसबैक का अनुभव होता है|

जिगजाग स्प्रिंग को कतिया से साइज के हिसाब से काटना है| इसे थोड़ा खींचकर लगाना चाहिए|  इसी प्रकार इलास्टिक की निवाड़ भी लगा लेंगे| 

Elastic niwar and zig-zag spring

Step 3: फोमिंग करना 

इसके बाद सोफे के वुडन स्ट्रक्चर पर हम फोम की पेस्टिंगकरेंगे| इससे सोफा बहुत ही आरामदायक हो जाएगा|

Foaming in sofa

Step 4: हैंडल तथा बैक

 अगले स्टेप में हमें सोफे की बैक तथा हैंडल को कंप्लीट करना है|  सोफे की सीट भी दो प्रकार से बनती है| 

1- जो सोफे में फिक्स रहती है|  

2- फ्रेम पर अलग से बना कर फिक्स की जाती है|

इसमें हम सोफे में फिक्स वाली शीट तैयार  कर रहे हैं| 

Sofa set handle complete

Step5: कंप्लीट सोफा

इस स्टेप में हम सोफे पर चारों तरफ कपड़ा लगा देंगे| 

complete sofa
complete sofa with back cushion

Step 6: सोफे की पैकिंग 

मैंने सोचा,  यह आखरी स्टेप भी क्यों छोड़ूँ!!  सोफा कंप्लीट होने के बाद जब आपको उसे पार्टी के यहां भेजना है,  तो उसे बहुत अच्छी तरह पैक कर ले|

 ट्रांसपोर्टेशन के दौरान झटके लगने से सोफा फट सकता है,  इसलिए उसे अच्छी तरह  बांधे| जहां पर भी रस्सी हो वहां पर उसके नीचे फोम का टुकड़ा अवश्य लगाएं| 

पन्नी से अच्छी तरह पैक कर दें जिससे कि रास्ते में धूल मिट्टी से वह गंदा ना हो जाए|

sofa packing in pvc

सोफे बनाने के बिजनेस में किन दिक्कतों का सामना करना पड़ता है?

  • आपका कारीगर आपको परेशान कर सकता है| 
  • बड़े सोफे के ट्रांसपोर्टेशन में आपको बहुत ध्यान रखना पड़ता है, साथ ही पार्टी आपको  इसे अपने घर के अंदर रखने तक की जिम्मेदारी दे सकती है,  यदि उसका जीना छोटा हो,  घर अधिक ऊंचाई पर हो तो आपको बहुत दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है| 

उदाहरण: एक बार मेरी फैक्ट्री से सोफा बनकर पार्टी के घर गया| मैंने उसके घर का इंस्पेक्शन नहीं किया था|

यही मुझसे सबसे बड़ी गलती हो गई थी| सोफा किसी भी एंगल से उसके घर में नहीं घुसा!  थक हार कर!  मुझे वह सोफा वापस अपने यहाँ मंगाना पड़ा! बाद में उसका कुछ सलूशन किया वह एक अलग बात है| 

  • रॉ मैटेरियल खत्म होने की स्थिति में आपको तुरंत वह मटेरियल उपलब्ध करवाना होता है, वर्ना आपका कारीगर खाली बैठ जाता है| 

नोट:  जिस भी पार्टी का आपने सोफा तय किया है| उस पार्टी से शुरुआत में ही एक चीज बिल्कुल क्लियर कर लें  की  आपके पास से सोफा जब लोड होगा,  जब आप सोफे की पूरी कीमत अदा कर देंगे| अन्यथा मैंने बहुत से लोगों को देखा है, जिनके घर में सोफा पहुंच जाता है, तो वह बाकी पैसे ना देने के बहाने ढूंढते हैं| 

साथ ही यह भी अवश्य देखें: कंपनी एजेंसी बिजनेस कैसे करें?

सोफा बनाने के  व्यवसाय में कितने धन की आवश्यकता होगी?

इसमें मैंने आपको सोफे की सप्लाई के बारे में नहीं बताया है|  आपको जो भी सोफे बनाने हैं उनके लिए आपको हर बार एक नई पार्टी से आर्डर लेना पड़ेगा|

अब यहां पर सवाल यह उठता है कि “आपको जो सोफे का ऑर्डर मिला है उसके लिए आपको कितने धन की आवश्यकता पड़ेगी?”

 तो दोस्तों,  इस सवाल का जवाब पढ़कर आपका दिल खुश हो जाएगा|  किसी भी सोफे के आर्डर में 30% से 50% आपको एडवांस मिल जाता है|

बाकी बची हुई पेमेंट में से कुछ आप आधा सोफा कंप्लीट होने पर ले सकते हैं| बाकि का सारा अमाउंट आपको सोफा कंप्लीट बनने पर मिल जाएगा|

यानी कि,  आपने सोफा बनाने के लिए अपनी जेब से एक भी पैसा नहीं लगाया, जो भी आपको पार्टी ने एडवांस दिया,  उसी से आपने उसका सोफा बना दिया है|

नोट:  कभी भी बिना एडवांस लिए किसी का भी सोफा ना बनाएं  तथा कपड़े का डिजाइन तथा कलर पास करवाते समय पार्टी से यह अवश्य कह दे कि “इसके कलर में लॉट के अनुसार थोड़ा सा फर्क हो सकता है|” 

साथ ही यह भी अवश्य देखें:

सबसे ज्यादा कमाई वाला बिजनेस

बिना वेबसाईट बनाये कैसे ऑनलाइन बिज़नेस करें?

Mattress Binding Tape बिज़नेस की सारी जानकारी

बिजनेस के लिए वेबसाइट कैसे बनाये?

उम्मीद करता हूं आपको यह पोस्ट “सोफा बनाने का बिजनेस कैसे शुरु करें? (How to start sofa making business)” बहुत पसंद आई होगी|

इसी प्रकार, एक नए बिजनेस आइडिया के साथ, मैं आपको अगली पोस्ट में फिर मिलूंगा,

तब तक के लिए नमस्कार 

धन्यवाद 

Previous articleबिना वेबसाईट बनाये, कैसे ऑनलाइन बिज़नेस करें? | Online business ideas in Hindi
Next articleऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं? 2021 | How to earn money online in Hindi
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!