शेयर मार्केट टिप्स, ट्रिक्स, आइडियाज 2022 | Share market trading tips in Hindi

184

इस पोस्ट के माध्यम से आप Share market trading tips, Share market trading tricks & ideas को Hindi में जानेंगे|

बहुत से नए लोग होते हैं जो शेयर मार्केट के उतार-चढ़ाव को नहीं जानते| अक्सर वह लोग share market में अपनी पूंजी का निवेश कर देते हैं और शेयर मार्केट के गिरने पर टेंशन में आ जाते हैं|

नए लोग अक्सर जब भी शेयर मार्केट में निवेश करने के बारे में सोचते हैं तो सबसे पहले वह इंटरनेट पर कुछ ऐसा टाइप करते हैं “Share market tips in hindi” या “share market trading tips in hindi

तो आइए आपको इस पोस्ट के माध्यम से इन सवालों का जवाब मिल जाएगा|

शेयर के बारे में अधिक जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: 

1- शेयर क्या होता है?

2- शेयर तथा डिबेंचर में क्या अंतर होता है?

3- शेयर जारी (Issue) करने की प्रक्रिया जानें

4- शेयर कैपिटल क्या होती है?

5- शेयर ज़ब्ती (Forfeiture) क्या होती है?

6- शेयर जारी (Issue) करने की प्रक्रिया जानें

Share trading से पहले क्या पैरामीटर देखें?

1- फायदा नुकसान 

आप जिस भी company के शेयर खरीदना चाहते हैं, सबसे पहले उसकी सालाना ग्रोथ देखें| 

कंपनी क्या होती है जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: 

कंपनी क्या होती है?, भारत में कैसे खोले? तथा कंपनी तथा साझेदारी में क्या अंतर होता है?

1- कंपनी की website पर जाकर देखें कि कंपनी का सालाना business कितना हुआ है और उसने पिछले दो-तीन साल में कितना profit कमाया है? 

2- कंपनी के तिमाही के नतीजे भी साथ में देखें| यदि कंपनी लगातार घाटे में चल रही हो तो उसके शेयर खरीदने से बचें|

इस बात पर IPO अप्लाई करते समय बहुत ज्यादा ध्यान देना चाहिए| 

आईपीओ के बारे में अच्छी तरह समझने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: 

A- IPO क्या होता है?

B- IPO में निवेश की रणनीति

3- जो कंपनी आप देख रहे हैं, हो सकता है! वह कंपनी पहले प्रॉफिट में थी परंतु एक-दो साल से कुछ घाटे में चल रही है तो ऐसी कंपनी का शेयर आप खरीद सकते हैं, क्योंकि इसकी गिरावट में कोरोनावायरस तथा लॉकडाउन का इफेक्ट शामिल हो सकता है|

2- Earning per share

किसी भी कंपनी के शेयर को खरीदने से पहले उस कंपनी का EPS (Earning per share) जरूर देखें|

कंपनी का ईपीएस जितना ज्यादा होगा, उस कंपनी का प्रॉफिट भी उतना ही ज्यादा होगा|

कंपनी के मार्केट में करोड़ों-लाखों शेयर होते हैं|

कोई भी कंपनी अपने एक शेयर पर जो मुनाफा कमाती है उसे ही ईपीएस कहते हैं| कंपनी के सालाना या तिमाही शुद्ध लाभ में से कंपनी के कुल शेयर्स को भाग करने पर कंपनी का ईपीएस पता चलता है| 

कैसे पता करें EPS

मान लीजिए, किसी कंपनी के पास ₹1 लाख के शेयर हैं| 

कंपनी ने साल के आखिर में एक करोड रुपए का मुनाफा कमाया| 

ऐसे में कंपनी का EPS होगा 

टोटल मुनाफा / टोटल शेयर

एक करोड़ / 1 लाख =  ₹100

यानी कि कंपनी अपने एक शेयर पर ₹100 का लाभ कमाती है| 

3- कंपनी के नाम के धोखे में ना आए! 

कंपनी बड़ी branding के चक्कर में आकर उसके शेयर ना खरीदें|  

वर्ना वह वाली कहावत चरितार्थ हो जाती है “नाम बड़े और दर्शन छोटे”

जैसा की अभी हाल ही में Paytm के साथ हुआ है|

किसी भी बड़े नाम वाली कंपनी के शेयर को खरीदने से पहले देख लें कि कंपनी को कितना फायदा हो रहा है?

अब जाकर पेटीएम के शेयरों में सुधार होना शुरू हुआ है|  

कंपनी पर कर्ज है और वह उससे उबर भी नहीं पा रही है तो उसके शेयर खरीदने से बचें|

किसी भी कंपनी के शेयर खरीदने से पहले उसके नाम से ज्यादा उसके काम को तरजीह दें|

अगर किसी कंपनी का business ऐसा है जो हर सीजन में चलता है जैसे कि खाने-पीने की चीजें, कपड़े, साबुन बनाने वाली कंपनी है तो, आप इनके शेयर खरीद सकते हैं| 

साथ ही यह पोस्ट भी अवश्य पढ़ें:

शेयर मार्केट में कैसे निवेश करें?

यदि आप शेयर मार्केट में नए हैं तो पहले आपको शेयर मार्केट के बारे में थोड़ी सी स्टडी कर लेनी चाहिए| 

आप को कम से कम यह तो पता ही होना चाहिए कि शेयर मार्केट क्या है?

Share market tip

यदि आप पहली बार शेयर मार्केट में इन्वेस्टमेंट करने जा रहे हैं और आपको शेयर मार्केट की समझ नहीं है तो बेहतर यही होगा कि आप पहले SIP या म्यूच्यूअल फंड के जरिए इन्वेस्टमेंट करें| 

म्यूच्यूअल फंड के बारे में अधिक जानने के लिए यह पोस्ट पढ़े: Mutual funds की सारी जानकारी 

आप थोड़ी-थोड़ी रकम का निवेश करके बड़ी रकम इकट्ठा कर सकते हैं| वही किसी एक्सपर्ट से भी सलाह ले सकते हैं ताकि नुकसान लगने की गुंजाइश कम रहे| 

शेयर खरीदने के बाद उसकी कीमत गिर जाए तो क्या करें?

शेयर मार्केट में ऐसा होना आम बात है कि किसी शेयर को खरीदने के बाद उसकी कीमत गिरने लगती है|

मान लीजिए,  “सूर्या” नाम की कंपनी बहुत अच्छी कंपनी है, साथ ही इसकी मार्केट ग्रोथ भी शानदार है| इस कंपनी के 1 शेयर की कीमत ₹200 है|

शेयर मार्केट में उतार-चढ़ाव का दौर शुरू होता है और इस कंपनी के शेयर की कीमत ₹180 हो जाती है|  आपने ₹180 के हिसाब से कुछ शेयर खरीद लिए| 

अगले दिन वह शेयर गिरकर ₹160 का हो गया, तथा उससे अगले दिन उस शेयर की कीमत ₹140 रह गई|

ऐसी स्थिति में आपके मन में यह ख्याल जरूर आएगा कि  काश आप कुछ दिन रुक जाते तो आप ₹140 की कीमत में वह शेयर खरीद सकते थे|

चाहे शेयर मार्केट हो या अन्य कोई बिज़नेस यही “काश” पैसा लगाने वाले हर शख्स के दिल में आता है| 

शेयर मार्केट के इन उतार-चढ़ाव ओ का अंदाजा लगाना मार्केट के बड़े-बड़े धुरंधरों के लिए भी मुश्किल हो जाता है| 

ऐसे में आम इन्वेस्टर की बात तो छोड़ ही दीजिए!!

हाँ, परंतु ऐसा जरूर है कि इस उतार-चढ़ाव में खास रणनीति बनाकर निवेश किया जा सकता है|

1- यदि आपके पास share investment  के लिए 2 लाख रुपए का बजट है तो आप इसे चार-पांच हिस्सों में बांट लें| 

किसी अच्छी कंपनी के शेयर गिर रहे हैं तो उस कंपनी के अधिकतम ₹ 15000 या ₹ 20000 के ही शेयर खरीदे| 

2- यदि अगले दिन शेयर की कीमत फिर से 5% तक गिरती है तो ₹10 हजार तक के शेयर खरीदें|

वहीं पर यदि कीमत 5% की जगह 10% गिर रही है तभी उसमें आप ₹20 हजार तक का निवेश करें| 

3- अगर गिरावट कई दिनों तक जारी रहे तो आप टेंशन बिल्कुल भी ना लें| शेयर मार्केट में गिरावट कहां? और कब? जाकर रुकेगी यह कोई नहीं बता सकता, लेकिन आप अपनी जेब के अनुसार ही शेयर खरीदें|

4- शेयर खरीदने के बाद आपको इंतजार करना है| यह इंतजार दो-तीन महीने का नहीं बल्कि कम से कम एक-दो साल का होना चाहिए|

शेयर हमेशा लंबे समय के लिए ही खरीदें| शार्ट टर्म के लिए शेयर खरीदने से बचें क्योंकि इसमें आप की रकम फँस सकती है|

रोज खरीदने-बेचने वाले शेयर के बारे में अधिक जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: Intraday trading क्या होती है?

5- यदि किसी भी शेयर पर 30 फ़ीसदी से अधिकतम का नुकसान हो रहा है तो बेहतर यही होगा कि आप उस शेयर को बेच दें|

6- शेयर मार्केट रिस्क वाली मार्केट है| अगर आप रिस्क लेने से घबराते नहीं हैं तो ही इस मार्केट में कदम रखें| मार्केट के उतार-चढ़ाव से परेशान ना हों| मार्केट गिरा है तो यह ऊपर भी जाएगा| 

7- कोशिश करें कि शेयर हमेशा लंबे समय के लिए ही खरीदें| 

सारी पूंजी निवेश करने के बाद शेयर मार्केट लगातार गिरे तो क्या करना चाहिए?

जैसा कि मैं पहले ही बता चुका हूं कि शेयर मार्केट में रिस्क है|

यदि आप इस मार्केट में है तो आप नुकसान को नजरअंदाज ना करें| आपको नुकसान के लिए भी तैयार रहना चाहिए|

इस मार्केट में समय-समय पर पाँच% से दस% का झटका लगता रहता है| 

यदि आप अपनी सारी रकम शेयर खरीदने में लगा चुके हैं और शेयर मार्केट में लगातार गिरावट का दौर जारी है तो धैर्य रखें|

शेयर बेचने की जल्दबाजी बिल्कुल ना करें| कई बार ऐसा हो जाता है कि काफी रिसर्च करने के बाद आपने जो शेयर खरीदा है उसकी कीमत लगातार गिरती जाती है| 

यदि आप ऐसे किसी स्थिति में फंस गए हैं तो यह काम करें:

1- शेयर खरीदते समय ही ध्यान रखें कि अगर कोई शेयर घाटे में जाता है तो आपको यह घाटा 25% से 30% तक ही रखना है, इससे ज्यादा नहीं, यानी नुकसान भी फिक्स रखना है|

जब भी लगे कि आपने जो शेयर खरीदा है वह प्रॉफिट की जगह नुकसान दे रहा है तो, 30% से ज्यादा का नुकसान न सहें और उसे बेच दें|

क्योंकि,कई बार ऐसा भी हो जाता है कि मार्केट में अच्छे समय का इंतजार करते हुए बहुत देर हो जाती है, और जो शेयर आपके पास है उनमें से कुछ की कीमत 50% से ज्यादा भी गिर जाती है| 

ऐसे में चिंता होना स्वाभाविक है,  ऐसी स्थिति  होने पर बेहतर यही रहेगा कि आप जितनी जल्दी हो सके वह शेयर बेच दें|

इस नुकसान से कुछ नया सीखें और इस रकम को किसी दूसरी कंपनी के शेयर खरीदने में लगाएं ताकि, नुकसान की भरपाई की जा सके| 

2- यदि कंपनी अच्छी है और वह लगातार बढ़ा हुआ प्रॉफिट दे रही है तो ऐसे में अपना अनुमान न देखें और शेयर अपने पास में रखें| 

कई बार शेयर की कीमत 50% या इससे भी ज्यादा गिर जाती है| यदि आप लंबे समय तक लगभग 8 से 10 साल तक शेयर अपने पास रखते हैं तो ऐसे में अच्छी कंपनियों के शेयर ना बेचें|

ऐसा भी हो सकता है कि शुरू में भी नुकसान दे लेकिन लंबे समय में वह शेयर आपको अच्छा मुनाफा दे सकते हैं| 

हालांकि नुकसान को ऐसी कंपनियों में भी लिमिट में रखें, यदि यह नुकसान लंबे समय तक रहे तो बेहतर होगा कि शेयर बेचकर निकल जाए| 

Upcoming shares 2021

1- Vivo Collaboration Solutions Limited IPO: IPO Open date (Dec 20, 2021) Close date (2021 Dec 23, 2021)

2- CMS Info Systems Limited IPO: IPO Open date (Dec 21, 2021) Close date (Dec 23, 2021)

3- Brandbucket Media & Technology Limited IPO: IPO Open date (Dec 20, 2021) Close date (Dec 23, 2021)

नोट:  इन तारीखों में बदलाव मुमकिन है| 

Upcoming IPO देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें: Upcoming IPO

साथ ही यह भी अवश्य देखें:

Online Money कमाने के तरीके

Payment gateway procedure क्या है?

affiliate marketing क्या होती है?

Web hosting क्या होता है तथा dedicated hosting vs cloud hosting

दोस्तों, उम्मीद करता हूँ आपको मेरी यह पोस्ट “Share market tips in hindi” अवश्य ही पसंद आई होगी|

अगली पोस्ट में फिर मिलेंगे तब तक के लिए नमस्कार,

धन्यवाद 

Previous articleस्टार्टअप इंडिया के लाभ, योग्यता तथा योजनाएँ | Startup definition India in Hindi
Next articleक्रिप्टो करेंसी क्या है? | Cryptocurrency meaning in Hindi
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!