Pillow cover making business idea: कम निवेश में शुरु करें पिलो कवर का बिज़नेस, होगी तगड़ी कमाई!

531

इस पोस्ट के माध्यम से आप Pillow cover making business idea के बारे में जानेंगे| यदि आप कोई कम निवेश वाला व्यवसाय (Low cost business) करने के बारे में सोच रहे हैं तो तकिए के कवर बनाने का बिज़नेस भारत में (Pillow Cover Manufacturing Business In India) बिल्कुल उपयुक्त रहेगा| 

मैं स्वयं गद्दे तथा तकिए के व्यवसाय से जुड़ा हुआ हूं इसलिए मुझे इस विषय के बारे में काफी अच्छी जानकारी है| उम्मीद करता हूं! मैं अपनी इस जानकारी को आपके साथ साझा करके इस बिजनेस के बारे में अच्छी तरह बताने का प्रयत्न करूंगा| 

इस व्यवसाय में बहुत ही कम धनराशि (Low investment business) की आवश्यकता है तथा साथ ही इसमें रिस्क भी बहुत कम है|

जैसा कि आप सभी जानते हैं Pillow (तकिया) हर घर में इस्तेमाल होता है तथा मार्केट में मिलने वाले तकिए के ऊपर कवर चढ़ा हुआ नहीं आता| 

नोट: केवल मार्किन का कवर चढ़ा हुआ आता है, जिसे फिक्स कवर कहते हैं इस पोस्ट में मैं लूज कवर की बात करूंगा

अब! ऐसी स्थिति में सभी लोगों को इसके ऊपर अपने मनपसंद कवर की खरीदारी करनी पड़ती है, इस कारण से पिलो कवर की मार्केट में हमेशा डिमांड बनी रहती है| 

मेरा ऐसा मानना है यदि आप ऐसा बिजनेस करने के बारे में सोच रहे हैं जो ₹1लाख तक के निवेश से शुरू हो जाए तथा जिस बिजनेस में मुनाफा (High profit business idea) भी अधिक हो!  तो निश्चित ही आपको यह पोस्ट अवश्य पसंद आएगी| 

तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं आज का टॉपिक! 

पिलो कवर क्या होता है? (What is a pillow cover?)

तकिए के ऊपर चढ़े कपड़े के कवर को पिलो कवर (Pillow cover) कहते हैं| इससे तकिए का फिक्स कवर गंदा नहीं होता| यह कई प्रकार की क्वालिटी का हो सकता है| 

Image Pillow Cover Making Business Idea

बिजनेस कैसे शुरू करें?

किसी भी बिजनेस शुरू करने के लिए आपको कुछ जरूरी टिप्स लेने पड़ेंगे| यदि आप इन चरणों के माध्यम से अपने व्यवसाय को शुरू करते हैं तो निश्चित ही सफलता आपके कदम चूमेगी|

इसके ऊपर मैंने अलग से एक पोस्ट लिख रखी है| 

आप इस पोस्ट को पढ़कर इसके बारे में जानकारी ले सकते हैं: बिजनेस कैसे शुरु करें? (How to start a business) 

Types

वैसे तो, तकिए के कवर बहुत सारी वैरायटी में आते हैं, परंतु आपको सरलता से समझाने के लिए मैं पिलो कवर को दो प्रकारों में बांट लेता हूं|

1- डिजाइन, रंग तथा पैटर्न के आधार पर: इस प्रकार के तकिए के कवर (cushion cover) में डिजाइन रंग तथा पैटर्न को ध्यान में रखा जाता है|  

जैसे कि: 

(i) चेक डिजाइन का तकिये का कवर (Check Design Pillow Cover)

(ii) कार्टून प्रिंट डिजाइन का तकिये का कवर (Cartoon Print Design Pillow Cover)

(iii) लाइनिंग डिजाइन का तकिये का कवर ( Lining Design Pillow Cover)

(iv) प्लेन रंग के तकिये का कवर (Plain Color Pillow Cover)

(v) फ्लावर प्रिंट तकिए का कवर (Flower Print Pillow Cover) इत्यादि 

2-  क्वालिटी के आधार पर: इस प्रकार के तकिए के कवर (cushion cover) में  क्वालिटी को ध्यान में रखा जाता है|

जैसे कि:

(i) सूती कपड़े का तकिए का कवर (Cotton Fabric Pillow Cover), 

(ii) पॉलिस्टर कपड़े के तकिए का कवर (Polyester Fabric Pillow Cover), 

(iii) ड्रिल कपड़े का तकिया का कवर (Drill Fabric Pillow Cover), 

(iv) कॉटन मिक्स कपड़े का तकिया का कवर (Cotton Mix Fabric Pillow Cover)

(v) नायलॉन कपड़े का तकिया का कवर (Nylon Fabric Pillow Cover)

(vi) साटन कपड़े का तकिया का कवर (Satin Fabric Pillow Cover)

(vii) रेशम कपड़े का तकिया का कवर (Silk Fabric Pillow Cover) 

Raw Material Required for Making Pillow Cover

1- कपड़ा (Fabric)

2- धागा (Thread)

3- वेल्क्रो (velcro)

4- ज़िपर (zipper)

तकिये के कवर बनाने के लिए कच्चा माल कहाँ से खरीदें? (Where to buy raw material for making pillow covers?)

आप इंटरनेट के माध्यम से बहुत ही आसानी के साथ पिलो कवर बनाने के लिए कच्चा माल खरीद सकते हैं| इसके लिए सबसे जरूरी सामान कपड़ा है|

उत्तम प्रकार के कपड़े का इस्तेमाल करके आप अपने बिजनेस को बहुत जल्दी बढ़ा सकते हैं|

इसके लिए आपको इंटरनेट पर केवल “pillow cover raw material on wholesale price” टाइप करना होगा| आपके सामने बहुत सारी वेबसाइट आ जाएंगी|

वेबसाइट के माध्यम से आप विभिन्न विक्रेताओं से संपर्क करके उनका एड्रेस प्राप्त कर सकते हैं|

इसके अलावा दिल्ली में (चांदनी चौक, क्लॉथ मार्केट, गांधीनगर, शांति मोहल्ला) इत्यादि जगह फेमस है|

 पानीपत, सूरत, मेरठ इत्यादि जैसे स्थानों पर भी कपड़े की काफी अच्छी इंडस्ट्री लगी हुई हैं| 

पिलो कवर बनाने की मशीन (Pillow Cover Manufacturing Machine)

सिरहाने के कवर बनाने के लिए आपको मुख्यतः तीन प्रकार की मशीनों की आवश्यकता होगी| 

1- सिलाई मशीन (Sewing machine)

2- कपड़ा काटने की मशीन (Cloth cutting machine)

3- ओवरलॉक सिलाई मशीन (overlock sewing machine)

पिलो कवर बनाने की मशीनों के नाम (Name of pillow cover making machines)

तकिए के कवर बनाने के लिए बहुत सारी मशीनें बाजार में उपलब्ध है| इनमें से कुछ मुख्य मशीनों की जानकारी में आपको दे रहा हूं|

1- Juki Sewing Machine

2- Brother sewing machine

3- Usha sewing machine

4- Singer sewing machine

5- Bluebells India sewing machine

6- Black Jake Sewing Machine

पिलो कवर बनाने की मशीन कहाँ से खरीदें? (Where to buy pillow cover making machine?)

यदि आप दिल्ली में रहते हैं तो पुरानी दिल्ली की  नई सड़क पर इसकी सबसे बड़ी मार्केट है| यदि आप दिल्ली के शाहदरा इलाके में रहते हैं तो और पुरानी सिलाई मशीन खरीदना चाहते हैं तो घोंडा चौक के पास की बहुत बड़ी मार्केट है|

वह आपको बहुत अच्छी कंडीशन में चालू मशीन बहुत ही कम कीमत पर मिल जाएगी| 

इसके अलावा आप Flipkart, Amazon, IndiaMART जैसी वेबसाइट के माध्यम से लिंग को खरीद सकते हैं|

पिलो कवर बनाने की मशीन की कीमत (pillow cover making machine price)

वैसे तो मशीनें बहुत ऊंचे दामों पर भी आती है, परंतु मेरा आपसे सुझाव है कि आप शुरुआत, कम कीमत की मशीन के साथ करें! 

तकिए के कवर बनाने की मशीन ₹5000 से ₹25000 तक की कीमत में बहुत ही अच्छी क्वालिटी की मिल जाएगी| 

पिलो कवर बनाने की विधि (How to Make Pillow Covers?)

तकिया मुख्यतः 22 x 17 इंची साइज के आते हैं| इसी के अनुसार आपको इनका कवर बनाना है| यदि आप इसके लिए एक कुशल कारीगर रख लेते हैं तो यह बहुत ही उत्तम विचार है|

पिलो कवर व्यापार के लिए लाइसेंस (License for Pillow Cover Business)

1- Municipal Authority License  

2- Udyog Aadhar MSME में रजिस्टर्ड करें, हालांकि यह अनिवार्य नहीं है परंतु यह आपको ऋण और सब्सिडी प्राप्त करने में सहायता करेगा।

एमएसएमई तथा लोन के बारे में अधिक जानने के लिए यह पोस्ट पढ़े:

(i) एमएसएमई क्या है? तथा MSME full form

(ii) Business loan कैसे मिलेगा?

3- BIS (Bureau of Indian Standards): certification यह भी अनिवार्य डॉक्यूमेंट नहीं है परंतु आपका बिजनेस बढ़ेगा तब आपको यह लेना पड़ेगा|

4- ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन (Apply for Trademark for your brand name): यदि आप अपने प्रोडक्ट का ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन करवा लेते हैं तो आपके प्रोडक्ट के नाम को कोई कॉपी नहीं कर पाएगा!

ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन के बारे में अधिक जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: Trademark registration कैसे होता है तथा कितनी फीस लगती है?

5- ISO (International Organization for Standardization): यह भी अनिवार्य डॉक्यूमेंट नहीं है|

6- जीएसटी रजिस्ट्रेशन (GST Registration): यदि आपके बिजनेस का दायरा इतना बड़ा है कि आप जीएसटी के दायरे में आते हैं तो आपको जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है, परंतु नए बिजनेस में आपको क्या पता है कि आपकी 1 साल की सेल कितनी होगी?, इसलिए आप 1 साल बाद जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं| 

7- Registration of firm: आप पिलो कवर विनिर्माण व्यवसाय के रुप में या तो एक प्रोपराइटरशिप कंपनी, पार्टनरशिप फर्म या फिर कंपनी के रूप में भी शुरु कर सकते हैं। 

यदि आप इस व्यवसाय को एकमात्र मालिक के रूप में शुरू कर रहे हैं, तो आपको अपनी फर्म को एक स्वामित्व के रूप में पंजीकृत करना होगा।

इनके बारे में अच्छी तरह जाने के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

(i) Sole proprietorship क्या होती है?

(ii) पार्टनरशिप फर्म क्या होती है? इसे खोलने के फ़ायदे तथा नुकसान क्या होते हैं?

(iii) LLP: लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप फर्म क्या होती है?

(iv) Partnership deed क्या होती है?

(v) कंपनी क्या होती है?, भारत में कैसे खोले? तथा कंपनी तथा साझेदारी में क्या अंतर होता है?

(vi) वन पर्सन कंपनी क्या होती है तथा इसका लाभ कैसे लें?

8- Trade License लेना अनिवार्य है|

9- IEC code: यदि आप भविष्य में पिलो कवर को अन्य देशों में निर्यात करने के इच्छुक हैं तो आपको आईईसी कोड (Import Export Code) ले 

लेना चाहिए जो किसी भी आयात-निर्यात करने के लिए अनिवार्य है।

एक्सपोर्ट के बारे में और अधिक जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़े: Export import business कैसे शुरू करें?

10- Safety: सेफ्टी को ध्यान में रखते  हुए आपको कुछ इंश्योरेंस पॉलिसी भी अवश्य ही करवा लेनी चाहिए| बीमा-किस्त का मूल्य बहुत अधिक नहीं होता|

अधिक जानने के लिए यह पोस्ट पढ़े: Fire insurance के फायदे, सिद्धांत तथा शर्तें क्या होती हैं?

पिलो कवर पैकेजिंग (Pillow Cover Packaging)

इसके लिए मार्केट में बहुत सुंदर-सुंदर प्रकार के चैन लगे हुए पॉलिथीन बैग मिलते हैं| इन बैग में आप अपने पिलो कबर की पैकिंग कर सकते हैं| 

पिलो कवर व्यापार के लिए मार्केटिंग (Marketing for the Pillow Cover Business)

किसी भी बिजनेस को सफल बनाने के लिए मार्केटिंग बहुत ही जरूरी है| यदि आपके व्यवसाय के बारे में किसी को पता ही नहीं होगा तो आपका माल कैसे बिकेगा?

इसे सफल बनाने के लिए आपको अपने व्यापार की मार्केटिंग अवश्य करनी चाहिए|  इसके लिए आप शुरुआत में सस्ते तरीकों को अपना सकते हैं|

जैसे कि: पंपलेट बटवा कर,  बैनर लगवा कर

यदि आप इंटरनेट के माध्यम से अपने व्यापार का प्रचार करेंगे तो यह बहुत ही उत्तम होगा| इसके लिए आपको एक बिजनेस वेबसाइट अवश्य बनवा लेनी चाहिए|

वेबसाईट कैसे बनाए? जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: Business के लिए website कैसे बनाये?

आपने वेबसाइट बनाई भी इंटरनेट पर अपने प्रोडक्ट का प्रचार कर सकते हैं|

 इसके बारे में अधिक जानने के लिए यह पोस्ट पढ़े: बिना website बनाये कैसे online business करें?

पिलो कवर व्यापार स्थापित करने के लिए आवश्यक स्थान (Space required to set up pillow cover business)

इस व्यवसाय की सबसे मुख्य बात यह है कि यह केवल 25 गज जगह में शुरू हो सकता है|  इसके लिए बहुत लंबी चौड़ी जगह की आवश्यकता नहीं है|

यदि आप इतनी जगह किराए पर भी लेते हैं तो भी आपको कोई घाटा नहीं है|

पिलो कवर कुल लागत (Pillow Cover Total Cost)

वैसे देखा जाए तो, किसी भी व्यापार में कितनी भी लागत लगा सकते हैं!  परंतु यदि एक न्यूनतम लागत की बात करें तो पिलो कवर व्यवसाय ₹1000,00 की लागत में शुरू हो सकता है|

पिलो कवर व्यापार से कितना कमा सकते हैं? (Earning from Pillow Cover Business)

इस व्यवसाय में कम निवेश तथा प्रॉफ़िट ज्यादा है|

इससे आप एक महीने में 50 हज़ार रुपए से एक लाख रुपए तक कमा सकते हैं|

पिलो कवर बिजनेस के फायदे (Advantages of Pillow Cover Business)

मुझे यह व्यापार कुछ विषयों में बहुत ही फायदेमंद लगता है| 

  1. कम पूंजी
  2. कम जगह
  3. चुनिंदा साइज
  4. कम मशीनरी की आवश्यकता
  5. माल के ट्रांसपोर्टेशन का कम खर्चा

पिलो कवर बिजनेस के नुकसान (Disadvantages of Pillow Cover Business)

ऐसा तो हो ही नहीं सकता कि किसी बिजनेस में नुकसान की संभावना ही ना हो,  इसलिए मुझे इस बिजनेस के नुकसान के बारे में भी अवश्य ही आपको बताना पड़ेगा ताकि आप उनसे सावधान रह सके|

1- इस व्यवसाय में यदि आप कारीगर के ऊपर आश्रित रहते हैं तो निश्चित ही आपको परेशानियां झेलनी पड़ेगी

2- मार्केट में डिजाइन के चलन में बदलाव होने पर आपके माल के डिमांड कम हो सकती है|

3- आपकी पसंद ना पसंद ग्राहक पर निर्भर नहीं करती ग्राहक की एक अपनी पसंद होती है| यदि आप अपनी पसंद का कपड़ा ले आते हैं और मार्केट में वह किसी को पसंद नहीं आता तो यह नुकसान का विषय है| 

4- कपड़े की पने (चौड़ाई) में विविधता होने के कारण वेस्टेज अधिक जा सकती है|

5- गलत साइज बन जाने पर आपका पूर्णतया नुकसान है| 

पिलो कवर व्यवसाय में सावधानियां (Precautions in Pillow Cover Business)

आपको बहुत सोच समझ कर कपड़े के रंग, प्रिंट तथा क्वालिटी का चुनाव करना चाहिए|

किसी भी बिजनेस के लिए आपको इंश्योरेंस अवश्य ले लेना चाहिए|

आपको बिजनेस से संबंधित कानूनों का थोड़ा-बहुत ज्ञान भी अवश्य ही होना चाहिए| इसके लिए आप इस ब्लॉग के बिजनेस लॉ सेक्शन में उनके बारे में पढ़ सकते हैं|

यदि आप सूती कपड़े का कवर बनाते हैं तो अपने प्रोडक्ट के विषय में पहले ही यह आपको सूचित कर दें की कलर की कोई गारंटी नहीं है, क्योंकि ऐसा संभव नहीं है कि सूती कपड़े पर रंग ना निकले| 

साथ ही यह भी अवश्य देखें:

E-Business क्या होता है?

E-business के क्या फायदे होते हैं?

Scope of e business ई व्यवसाय का दायरा कितना है?

ई बिजनेस की सीमाएं तथा नुकसान क्या हैं?

यदि आपको यह पोस्ट “Pillow cover making business idea” पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर अवश्य करें|बिजनेस से संबंधित ऐसे ही बिजनेस आइडिया के साथ अगली पोस्ट में मशीन मिलूंगा तब तक के लिए नमस्कार धन्यवाद|

Previous articlePapad Making Business Idea: कम निवेश में महिला और पुरुष शुरू करें पापड़ का बिज़नेस, अच्छी कमाई होगी!
Next articleSoap Making Business Idea: कम खर्चे के साथ साबुन बनाने का बिज़नेस शुरू करे और कमाए लाखो रुपए, ये है तरीका
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!