RBI ने ऑनलाइन पेमेंट नियमों में बदलाव कर नियमों को सख्त किया!

133

दोस्तों, यह खबर बहुत ही इंपॉर्टेंट है| यदि आप credit card या debit card द्वारा online transaction करते हैं तो यह खबर आपके लिए बहुत काम की हो सकती है|

Payment companies अब customer का debit card तथा credit card की detail save नहीं कर सकेंगी| RBI (reserve bank of India) online payment नियमों को सख्त करने का फरमान सुना दिया है|

इसके अंतर्गत payment gateways companies credit card तथा debit card डिटेल सेव नहीं कर  सकेंगी| जनवरी 2022 से payment के लिए ग्राहक को हर बार credit/debit कार्ड के 16 डिजिट वाले नंबर को डालना जरूरी होगा|

यानी कि ग्राहकों को पेमेंट पर, हर बार कार्ड का ब्यौरा बताना होगा|

One click payment facility 

बता दें कि आरबीआई भारत के payment gateway द्वारा उन चुनिंदा नए नियामक  मानदंडों पर छूट की मांग को मानने के सख्त खिलाफ है, जो businessman को card detail और भुगतान ऑपरेटर को उपभोक्ताओं को वन क्लिक चेकआउट सेवा प्रदान करने से प्रतिबंधित करने के लिए निर्धारित है|

पेमेंट गेटवे के बारे में ज्यादा जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: Payment gateway procedure क्या है?

इस पर कंपनियां क्या चाहती हैं?

कंपनियां चाहती हैं नए नियम से छूट: Payment gateway companies का कहना है कि रिजर्व बैंक को अपने नियमों में रियायत (relaxation) देनी चाहिए| पेमेंट गेटवे कंपनियों को छूट मिलनी चाहिए, लेकिन रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया इस तरह की कोई भी छूट देने के मूड में नहीं है|

नए नियम के मुताबिक, जनवरी 2022 से एक ही क्लिक पर पेमेंट (One click payment facility) ऑपरेटर्स को चेक आउट सेवाएं देने, तथा उनकी क्रेडिट/डेबिट कार्ड डिटेल्स को स्टोरिंग करने पर रोक लग सकती | 

कंपनी के बारे में ज्यादा जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: कंपनी क्या होती है?, भारत में कैसे खोले? तथा कंपनी तथा साझेदारी में क्या अंतर होता है?

डेबिट और क्रेडिट कार्ड पर क्या नया नियम लागू होगा? 

इन नए नियमों के तहत क्रेडिट/डेबिट कार्ड धारकों को वर्ष 2022 से online payment करने के लिए हर बार अपने क्रेडिट और डेबिट कार्ड  के 16 अंकों के नंबर को डालना होगा|  अभी एक बार पेमेंट करने पर, दूसरी बार, उसी कार्ड से पेमेंट करने के लिए केवल कार्ड वेरिफिकेशन वैल्यू (CVV)  और वन टाइम पासवर्ड (OTP) देना होता है|  इसके बाद उस कार्ड से बहुत जल्दी पेमेंट हो जाता है|

धीरे-धीरे पूरे भारत में e-business बढ़ रहा है| लोगों को पता चलता जा रहा है कि यदि उन्हें आने वाले समय में बिजनेस में सफल होना है तो उन्हें ई प्लेटफार्म पर आना ही पड़ेगा|

इस कारण से हैकिंग तथा साइबर क्राइम जैसी समस्याएं भी बढ़ती जा रही हैं|

ई बिजनेस क्या होता है जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: E-Business क्या होता है?

वेबसाइट बनाने के लिए यह पोस्ट पढ़े: Business के लिए website कैसे बनाये?

ग्राहकों की सुरक्षा के क्या ड्राफ्ट तैयार किया गया है?

RBI द्वारा नई नीतियों का ड्राफ्ट ग्राहक की सुरक्षा को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है हालांकि, मौजूदा सिस्टम से कस्टमर्स का समय तो बचता है परंतु, कई बार नियमों का उल्लंघन भी होता है|

Cyber crime का खतरा बहुत तेजी से बढ़ रहा है|  पेमेंट गेटवे कंपनियों के पास ग्राहक के कार्ड की सारी जानकारी उनके सिस्टम पर मौजूद रहती है| ऐसे में हेकर्स के सेंध मारने का खतरा काफी बढ़ जाता है| यह जानकारियां भी सीधे आरबीआई की निगरानी में नहीं आती है|

ओटीपी से जुड़े नियम की जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें: OTP NEW GUIDELINE

साथ ही यह भी अवश्य देखें:

E-business के क्या फायदे होते हैं?

Logistics Management कैसे करें?

entrepreneur vs businessman & entrepreneur meaning in hindi

खुद का बिजनेस कैसे शुरु करें? (How to start a business)

ऐसी ही बिजनेस संबंधित पोस्ट को पाने के लिए कृपया इस ब्लॉग को सब्सक्राइब कर लें|

 बिजनेस से संबंधित अगली पोस्ट में फिर मिलेंगे तब तक के लिए नमस्कार 

धन्यवाद|

Previous articleEntrepreneur meaning in Hindi | आंत्रप्रेन्योर तथा बिजनेसमैन में क्या अंतर होता है?
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!