laghu udyog: लघु उद्योग में आने वाले प्रोडक्ट्स की लिस्ट व जानकारी

430

laghu udyog ऐसे उद्योग धंधो को कहते हैं जिनमें लागत एवं श्रम शक्ति की मात्रा कम होती है। laghu udyog को इंग्लिश में स्माल स्केल इंडस्ट्री (Small Scale Industry) भी कहते हैं। देश की औद्योगिक अर्थव्यवस्था में small industry एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती हैं।

इसके अनुसार यह अनुमान लगाया जाता है कि भारत के कुल निर्यात में 33% का योगदान small industry से आता है। laghu udyog के बिना भारत की अर्थव्यवस्था पर गहरी चोट लगेगी|

small industry व बड़े पैमाने पर काम करने वाले उद्योगों में सबसे बड़ा अंतर कुल लागत (investment), रोजगार उत्पादन (employment generation) एवं नकदी निकासी (cash flow) का होता है।

मुख्यतः इन्हें उद्योगों को इनमें लगाई जाने वाली राशि से वर्गीकृत किया जाता है की वह किस केटेगरी में आएगा। आइये सबसे पहले विस्तार से जानते हैं लघु उद्योग क्या हैं? व किस प्रकार से इनका विभाजन किया जाता है? 

तो चलिए दोस्तों! शुरु करते हैं आज का यह टॉपिक – “laghu udyog ki jankari

laghu udyog का भारतीय अर्थव्यवस्था में महत्व

लागू उद्योग की भारत में हिस्सेदारी का चार्ट
लघु उद्योग की भारत के निर्यात में हिस्सेदारी

वह उद्योग धंधे जो जिनमें बहुत थोड़ी पूंजी लगाकर शुरू किया जा सकता है laghu udyog कहलाते हैं|

इन्हे Small Industries भी कहते हैं| आप एक स्मॉल कंपनी लगाकर भी लघु उद्योग की श्रेणी में आ सकते हो|

साथ ही यह अवश्य देखें: ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन कैसे होता है तथा कितनी फीस लगती है?

ऐसे उद्योग धंधे जिनके लिए बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियों की आवश्यकता ना हो, बड़ी बड़ी मशीनरी इसकी आवश्यकता ना हो,

इन उद्योग धंधों को प्राय: laghu udyog (Small Industries) कहा जाता है| 

laghu udyog के लिए जरूरी नहीं है कि उसमें मशीनरी का इस्तेमाल हो|

ऐसा भी जरूरी नहीं है कि जिस उद्योग में मशीनरी है वह laghu udyog में नहीं आएगा|

सरकार द्वारा उद्योग धंधे का वर्गीकरण किया गया है जिसके अनुसार यह तय किया गया है कि कितनी लागत वाला तथा कितने कारोबार वाला व्यवसाय किस श्रेणी में आएगा|

सरकार ने MSME की नई परिभाषा दी है जिसके अनुसार अब सर्विस सेक्टर को तथा मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को एक ही श्रेणी में माना जाएगा| 

MSME की नई परिभाषा के अनुसार small industry धंधे वे होते हैं जिनमें 10 करोड़ तक का निवेश हो तथा 50 करोड़ करोड़ तक का कारोबार हो|

उद्योग कितने प्रकार के होते हैं?: “उद्योग तीन प्रकार के होते हैं- सूक्ष्म उद्योग (Micro), लघु उद्योग (Small), मध्यम उद्योग (Medium)”

laghu udyog के लिए एमएसएमई की नई परिभाषा

MSME (Micro, Small and Medium Enterprises) की नई परिभाषा

श्रेणी Categoryसूक्ष्म उद्योग (Micro) लघु उद्योग (Small)मध्यम उद्योग (Medium)
मैन्युफैक्चरिंग एवं सर्विस सेक्टर निवेश (Investment) एक करोड़ तक कारोबार (Turnover)5 करोड़ तकनिवेश (Investment)  10 करोड़ तक कारोबार (Turnover) 50 करोड़ तकनिवेश (Investment)  50 करोड़ तक कारोबार (Turnover) 250 करोड़ तक
msme की नई परिभाषा

लघु उद्योग के क्या फ़ायदे होते हैं?

निम्नलिखित कारणों से लघु उद्योग क्षेत्र में विशाल अवसर हैं :

साथ ही यह पोस्ट भी अवश्य पढ़ें: जीएसटी रिवर्स कैलकुलेशन तथा जीएसटी कैलकुलेशन फार्मूला जानना जरुरी है!

  • कम पूंजी की आवश्यकता होती है|
  • सरकार द्वारा विस्तृत संवर्धन और समर्थन (Wide promotion and support)
  • परियोजना प्रोफाइल (Project profile)
  • धन – वित्त और सब्सिडी (Money – Finance and Subsidy)
  • मशीनरी प्राप्ति
  • लघु उद्योग क्षेत्र द्वारा विशिष्ट निर्माण के लिए आरक्षण (Reservation for Exclusive Construction by Small Scale Sector)
  • कच्चे माल की प्राप्ति (Raw material procurement)
  • मानव-शक्ति प्रशिक्षण (Manpower training)
  • तकनीकी और प्रबंधकीय कौशल (Technical and managerial skills)
  • औजार तथा परीक्षण सहयोग (Tools and Test Support)
  • भारतीय उत्पादों के लिए बढ़ते हुए भावी निर्यात
  • सरकार द्वारा विशिष्ट क्रय के लिए आरक्षण (Reservation for specific purchases by the government)
  • निर्यात संवर्धन (Export promotion)
  • सकल आर्थिक वृद्धि के कारण घरेलू बाजार आकार में मांग में वृद्धि
  • वृहत्त क्षेत्र में हरित इकाइयों की बढ़ती संख्या के कारण अनुषंगी इकाइयों की आवश्यकता में वृद्धि

लघु उद्योग लगाने के लिए विडिओ: तकिये बनाने की मशीन

इस विडिओ के माध्यम से आप आसानी से “laghu udyog ki jankari” ले सकते हैं|

लघु उद्योग | small business | business idea | low investment business | Export Product Selection

लघु उद्योग लिस्ट: laghu udyog projects list

साथ ही यह अवश्य देखें: बैंक गारंटी क्या होती है? बहुत ही आसान तरीके से समझें

Laghu udyog में आने वाले प्रोडक्टस की लिस्ट

मछली पालन

रेडीमेड गारमेंट्स बिज़नेस

गद्दे बनाना (Mattress Making): गद्दे बनाने की फैक्ट्री कैसे लगायें?

हर्बल सामान जैसे साबुन, तेल आदि बनाना

कुकी व बिस्कुट बनाना (Parle कंपनी की शुरुआत भी ऐसे ही हुई थी)

पेपर प्लेट (दोना-पत्तल) बनाने का व्यवसाय

हाथ से बने चॉकलेट बनाना

मक्खन, देशी घी व पनीर बनाना और डिब्बा बंद कर बेचना

टॉफ़ी व चीनी की मिठाई बनाना

सोडा व अलग फ्लेवर्ड ड्रिंक बनाना

मोमबत्ती व अगरबत्ती बनाना

फलों का गूदा निकालना व बेचना (Fruit pulp extraction & sale)

क्लाउड किचन खोलना (Cloud kitchen – Swiggy/Zomato पर खाना बेचना)

फैंसी जेवेलरी बनाना

खेती के औजार बनाना 

डिस्पोजेबल कप-प्लेट बनाना

बैटरी (Battery) बनाना

बैटरी (Battery) रिक्शा बनाना

एल्युमीनियम का सामान जैसे बर्तन बनाना

घर में इस्तेमाल किया जाने वाला कूलर बनाना

घरों में बिजली बढ़ाने के लिए इस्तेमाल होने वाला वोल्टेज मीटर बनाना 

हॉस्पिटल में उपयोग किए जाने वाला स्ट्रेचर बनाना

गाड़ी में लगने वाली हेडलाइट बनाना

कपड़े, चमडे या जूट का बैग बनाना

सामान लाने के लिए कपड़े के थैले या जूट के थैले बनाना 

बटुआ व हैंडबैग बनाना

करंट मापने वाला पर मीटर या वोल्ट मीटर बनाना

मसाले बनाने का काम

कांटेदार तार बनाना (fence)

टोकरी बनाना

सैनिटाइज करने के लिए इस्तेमाल में होने वाली प्लास्टिक का प्रेशर पंप बनाना 

सोलर पैनल बनाना

चमड़े का बेल्ट जूता या चप्पल बनाना

हस्तशिल्प (हस्तशिल्प)

कपड़े रखने का बक्सा या अटैची बनाना

मास्क बनाना 

प्लेट व कटोरी बनाना

झाड़ू बनाना

साइकिल की गद्दी बनाना 

जूते साफ करने की पॉलिश बनाना

पारम्परिक औषधियां बनाना

जूस निकालने की मशीन बनाना

पेपर बैग व लिफाफे बनाना

गद्दों के कॉटन के कवर बनाना

प्लास्टिक के खिलौने बनाना

रोटीदान बनाना 

रोटी बनाने वाली मशीन बनाना 

डुप्लीकेट चाबी बनाने वाली मशीन बनाना 

हथौड़ी बनाना

पेचकस बनाना

तांबे की मूर्तियां बनाना

मिट्टी की मूर्तियां बनाना

वाइपर बनाना

पोंछे बनाना

थर्मामीटर बनाना 

चप्पलों के सोल बनाना

जूतों के फूल बनाना

गाड़ियों के शीशों पर धूप रोकने के लिए जाली बनाना

पूजा में इस्तेमाल होने वाली घंटी बनाना

जाले साफ करने के लिए प्लास्टिक की झाड़ू बनाना

दवाइयां रखने के लिए प्लास्टिक के डिब्बे बनाना

बच्चों की  पढ़ाई के लिए स्टेशनरी बनाना

बच्चों के खिलौने बनाना

मोमबत्ती रखने का स्टैंड बनाना

ताले बनाना

बटन बनाना

मिक्सी के जग बनाना

कुकर की सीटी बनाना

कुकर के ढक्कन में इस्तेमाल होने वाली रबड़ बनाना

प्लास्टिक की सिरिंज बनाना

वैक्यूम क्लीनर बनाना

चाय बनाने की मशीन बनाना

अंडे उबालने वाली केतली बनाना

फॉयल पेपर बनाना

घरों की छत पर इस्तेमाल होने वाली टीन की चद्दर बनाना

प्रेस बनाना

प्रेस करने का स्टैंड बनाना

लेदर की जैकेट बनाना

लेदर की बेल्ट बनाना

सामान रखने के लिए गत्ते के डिब्बे बनाना 

स्टेपलर बनाना

स्टेपलर की पिन बनाना

पिन रखने की प्लास्टिक में मेगनेट जुड़ी डिब्बी बनाना

कैंची बनाना 

चश्मे बनाना

चश्मा रखने का कवर बनाना

ब्रेड सेकने का टोस्टर बनाना 

बोतलों को बंद करने के लिए ढक्कन बनाना 

खाना गर्म करने  वाला ओवन बनाना

बिजली के स्विच बनाना

कूलर की जाली बनाना

गमले बनाना

प्लास्टिक की टंकियां बनाना

पीतल के नल बनाना 

लोहे की कील बनाना 

पीतल के नट बनाना 

क्लोरीन की गोलियां बनाना

अचार बनाना

तकिये बनाना 

लकड़ी के सोफे बनाना

सोफ़े के पाये (पैर, Leg) बनाना

लोहे के दरवाजे बनाना 

पॉपकॉर्न बनाने वाली मशीन बनाना 

रबड़ के गुब्बारे बनाना 

पानी ठंडा रखने के लिए जग बनाना

हेलमेट बनाना

रिवाल्विंग चेयर बनाना

रस्सी बनाना

सीढ़ियां बनाना-  लकड़ी की, एलमुनियम की 

जूतों के फीते बनाना 

साबुन बनाना (साबुनदानी बनाना)

सेट टॉप बॉक्स रखने के लिए स्टैंड बनाना

टीवी रखने का स्टैंड बनाना

रिमोट बनाना

ट्रांजिस्टर बनाना

मोबाइल के बैक कवर बनाना

मोबाइल के लिए स्क्रीन गार्ड बनाना

स्टील के स्टूल बनाना

सर्जिकल ब्लेड बनाना

स्टील के रैक बनाना

सोफा कम बेड बनाना

स्टील के हैंगर बनाना

पौधों को सुरक्षित रखने के लिए जालियां बनाना

चिकित्सा में इस्तेमाल होने वाले दस्ताने बनाना

चिपकने वाली टेप बनाना- 

स्टील की ग्रिल बनाना

तिरपाल बनाना

गाड़ियों के सीट कवर बनाना

मोटरसाइकिल के हॉर्न  बनाना

ट्रॉली बनाना

लोहे की अलमारी बनाना

छतरी बनाना

बरसाती बनाना

टोपी बनाना

रबड़ स्टैंप बनाना

विजिटिंग कार्ड, शादी कार्ड बनाना 

कंप्युटर टेबल, ऑफिस टेबल बनाना

मिठाईयां बनाना

स्नैक्स बनाना

अचार के मसाले बनाना

साबुनदानी बनाना

सिलोचन बनाना (एक प्रकार का केमिकल जो की फ़ोम को चिपकाने के काम आता है)

मोबाइल के चार्जर बनाना

मानचित्र बनाना

ग्लोब बनाना

टेबल लैंप बनाना

चिमटी बनाना

गाड़ियों के हेड लाइट बनाना

गाड़ियों के साइड के शीशे बनाना

स्ट्रेचर बनाना

पॉलिथीन बैग बनाना 

भूसा काटने की मशीन बनाना

फावड़े बनाना

लिखने वाले वाइट बोर्ड बनाना 

माचिस बनाना

बोंडेड फोम बनाना

शटर बनाना

क्रिकेट बैट, बॉल, ग्लव्स बनाना

साइन बोर्ड,  ब्लैक बोर्ड,  बनाना 

वजन तोलने के लिए तराजू बनाना

गोंद बनाना

बंदूक रखने के कवर बनाना

साइकिल के स्पेयर पार्ट्स बनाना

गाड़ियों की एसेसरीज बनाना 

दीवार घड़ी बनाना

प्लास्टिक के दरवाजे बनाना

ड्रिल मशीन बनाना

जल निकासी के पाइप बनाना

मॉड्यूलर किचन के सामान बनाना

नकली बालों की विग बनाना

पेंट करने वाले ब्रश तथा रोलर बनाना

टूथ पेस्ट करने वाले ब्रश बनाना 

जीभ साफ करने वाली जिब्भी बनाना 

बैटरी बनाना 

लोहे तथा प्लास्टिक के इंची टेप बनाना

सिलाई मशीन बनाना

घिसाई की मशीन बनाना

स्पीकर के बॉक्स बनाना

थर्माकोल के कोल्ड बॉक्स बनाना

हैंड पंप बनाना

जूते की पॉलिश बनाना

टॉयलेट सीट, वाशबेसिन बनाना

रेशम के धागे बनाना 

मच्छरदानी बनाना

बॉल बेयरिंग बनाना

चावल तथा गेहूं के खाली बोरे बनाना

केलकुलेटर बनाना

कूड़ेदान बनाना

टॉर्च बनाना

इमरजेंसी लाइट बनाना

आग बुझाने के यंत्र बनाना

व्हीलचेयर बनाना

शहद बनाना

ब्रेसिज (दांतों के लिए उपयोग में लाया जाता है )

दूध मापने का यंत्र

घास काटने की मशीन बनाना

फ्रीज रखने की प्लास्टिक की चौकी बनाना

ब्लो लैंप बनाना

कॉपर के पतले पाइप बनाना

आतिशबाजी बनाना

स्पीड मीटर बनाना

ब्रेक शू बनाना

ऊनी वस्त्र बनाना

लकड़ी की पेटी बनाना

पौधों के लिए खाद बनाना

मछली, बकरी, मुर्गी इत्यादि पालना 

वेल्डिंग मशीन बनाना

बिजली से टांका लगाने वाली आयरन बनाना

दरवाजे में इस्तेमाल होने वाले कब्जे, कुंडी, चिटकनी बनाना

पानी खींचने की बिजली से चलने वाली मोटर बनाना

सवारी  रिक्शे, रिक्शे की बॉडी बनाना

चेहरा देखने के लिए फैंसी शीशे जो कि फ्रेम में होते हैं, बनाना

लग्जरी स्लीपिंग मैट्ट्रेस बनाना 

घोड़े की नाल,  लकड़ी की बुग्गी बनाना

लैटेक्स पिलो बनाना (तकिये)

Wheel cover बनाना

नेल पॉलिश, चूड़ियां तथा अन्य सौंदर्य प्रसाधन बनाना

प्लास्टिक के वेस्टेज को चूरा करने वाली मशीन बनाना

बोतलों के ढक्कन खोलने के लिए ओपनर बनाना

दरी बनाना

पेन बनाना

Mouse Pad (Computer accessories) बनाना

मोतियों की माला बनाना

मोबाईल के कवर बनाना

प्रिंटर बनाना (प्रिंटर के कवर बनाना)

यदि आपको यह पोस्ट आपको पसंद आयी हो तो कृप्या आप इसे शेयर अवश्य करें|

धन्यवाद

Previous articleएक्सपोर्ट इम्पोर्ट बिज़नेस कैसे शुरु करें? | Export import business in Hindi
Next articleइंडियन ट्रैड पोर्टल का आयात-निर्यात में क्या फ़ायदा है | Indian Trade Portal benefits
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!