किसी भी बिजनेस को कैसे शुरु करें | how to start a business in Hindi

216

दोस्तों, इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे कि हम कोई भी बिजनेस कैसे शुरू करें? (how to start a business in Hindi)|

किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए इसी business starting strategy का इस्तेमाल करें| 

यह पोस्ट लंबी जरूर है परंतु, इसमें मैंने अपने व्यापारिक जीवन का पूरा अनुभव उड़ेल दिया है| 

इस पोस्ट के पूरा समाप्त होने पर आपके इस सवाल “बिजनेस कैसे शुरू करें (how to start a business) का जवाब मिल जाएगा| 

इसमें जितने भी जरूरी लिंक दिए हैं, उन सब पोस्ट को पढ़ने के बाद यह मेरा दावा है कि, आप बिजनेस के मामले में एकदम शार्प माइंड हो जाएंगे

इस पोस्ट में मैंने चुटीली भाषा का इस्तेमाल किया है| यदि इसे पढ़ने से कोई आहत हो तो मैं उस शुरुआत में ही उससे माफी मांग लेता हूं|

तो चलिए दोस्तों, शुरु करते हैं आज का Most Important Topic

किसी भी बिजनेस को कैसे शुरू करें (how to start a business in Hindi)”

1- Clear Mindset 

किसी भी नए business को शुरू करने से पहले आपका माइंड सेट बिल्कुल क्लियर होना चाहिए| सबसे पहले अपने आप से पूछें कि आप वह business क्यों शुरू करना चाहते हैं?

पैसा कमाने के लिए या नाम कमाने के लिए|

तो दोस्तों, जब आप नाम कमाएंगे तो पैसा अपने आप पीछे-पीछे चल कर आ जाएगा| 

और नाम कमाने में टाइम लगता है, बिगाड़ने में तो छोटी सी गलतियां ही काफी है| 

इस सवाल का जवाब स्पष्ट होने के बाद अगला सवाल क्लियर होना चाहिए कि क्या आपका मन उस काम को करने में लगेगा?

भाई लोगों, business शुरू करने के बाद में आप का मन ना लगे| 

ऐसी स्थिति से बचने के लिए पहले ही देख लेना चाहिए कि जो काम आप शुरू करना चाहते हैं, कहीं कुछ दिनों बाद उसे करने में आप बोर हो जाएं| 

अब! माइंडसेट क्लियर करने के बाद अगले टॉपिक पर चलते हैं की किस तरह का बिजनेस करे? Goods का या services का?

Product का business करने से पहले product selection करना बहुत ही जरुरी है| यह किसी भी बिजनेस की यह रीढ़ है| 

2- Product selection

दोस्तों, कोई भी business शुरू करने से पहले आपको प्रोडक्ट के बारे में इन सवालों के जवाब जरूर स्पष्ट कर लेना चाहिए 

1- Basic knowledge

कोई भी business शुरू करने से पहले आपको, उस प्रोडक्ट की बेसिक जानकारी जरूर ले लेनी चाहिए| आप जितना उस प्रोडक्ट के बारे में खोजबीन करेंगे, उतना ही आपको उसके बारे में ज्यादा पता चलता चला जाएगा|

इससे बिजनेस शुरू करने से पहले ही आपके business में पकड़ भी बढ़ती चली जाएगी|

2- Demand & Supply

Product Select करने से पहले आपको उस प्रोडक्ट की डिमांड और सप्लाई के बारे में अवश्य जान लेना चाहिए| इससे आपके बहुत सारे डाउट क्लियर हो जाएंगे| 

कहीं आप ऐसा प्रोडक्ट सलेक्ट कर लें जिसकी मार्केट में डिमांड ही ना हो! तो इससे बिजनेस में बहुत ही नुकसान लगाने वाली बात है| 

इसे अच्छी तरह समझने के लिए आपको यह पोस्ट पद्धनी चाहिए: Inflation: मुद्रास्फीति तथा अपस्फीति क्या होती है?

3- Size of Product

Product select करने में किसी प्रोडक्ट का साइज बहुत महत्वपूर्ण विषय है| अब! जैसे कि मेरा गद्दे (Mattress) का व्यवसाय है| 

अब क्योंकि गद्दे का साइज बड़ा होता है, इसलिए मुझे बड़े गोदाम की आवश्यकता होती है, वहीं पर यदि मेरा product पेन, पेंसिल होता तो मुझे उसके मुकाबले बहुत कम जगह की आवश्यकता पड़ती| 

4- Weight of product

किसी भी प्रोडक्ट को सेलेक्ट करने से पहले उसका वजन भी देख लेना जरूरी है| जैसे कि मेरा प्रोडक्ट गद्दा है| अब! गद्दे का साइज तो बड़ा होता है परंतु उसमें वजन नहीं होता|

यदि आप का प्रोडक्ट छोटा है परंतु उसका वजन बहुत ज्यादा है तो इससे भी आपको थोड़ी सी समस्या का सामना करना पड़ेगा|

5- Product nature 

किसी भी business को शुरू करने से पहले आपको प्रोडक्ट सेलेक्ट करना है उसके लिए आपको Product nature (उत्पाद प्रकृति)  का भी अवश्य ध्यान रखना है|  

आपको उस प्रोडक्ट के बारे में यह देखना है कि उस प्रोडक्ट का मौसम पर क्या प्रभाव पड़ता है?, पानी गिरने पर क्या प्रभाव पड़ता है?, ज्यादा गर्मी होने पर क्या प्रभाव पड़ता है इत्यादि

इसे नजरअंदाज करने पर आपका बहुत नुकसान लग सकता है, या ऐसा हो सकता है कि आप उसकी प्रकृति के कारण बाद में परेशान हो जाओ|

जैसे कि:

1- सब्जियां-  इनको कोल्ड स्टोरेज चाहिए वरना यह खराब हो सकती हैं, इसलिए इनको Reefer container में ही एक्सपोर्ट किया जाता है, तथा Transhipment से बचा जाता है| 

Transshipment क्या होता है? जानने के लिए यह पोस्ट करें: Export business में Transshipment क्या होता है?

2- मसाले- यह नमी तथा पानी से खराब हो सकते हैं, इसलिए इनके निर्यात के समय इन्हें पॉलीबैग में अच्छी तरह पैक करके ही भेजा जाता है|

 यदि आप Export business शुरू करना चाहते हैं तो यह पोस्ट पढ़ें: Export import business कैसे शुरू करें?

6- Seller कहाँ मिलेगा?

आप जो प्रोडक्ट बेचना चाहते हैं, उसके विक्रेता कहाँ पर हैं? वैसे तो internet का जमाना है परंतु, आज भी भारत की आधी से ज्यादा आबादी इंटरनेट से वंचित है|

किसी भी प्रोडक्ट के विक्रेता को आप indiamart जैसी B2B वेब साइट से आसानी से खोज सकते हैं| 

7- Buyer

आपका जो भी प्रोडक्ट है, उसका ग्राहक कैसा है? इसके बारे में भी आपको थोड़ी सी रिसर्च कर लेनी चाहिए| 

जैसे कि: यदि आप Ladies Suit का business शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं तो महिलाएं आपकी ज्यादा ग्राहक होंगी| 

ऐसे में आपको अपने व्यवहार में अधिक नरमी लानी पड़ेगी| 

8- Profit margin

किसी भी business को जब हम शुरू करते हैं तो सबसे पहले हम profit Margin को ही ढूंढते हैं| बहुत से प्रोडक्ट ऐसे हैं जिनकी लागत अधिक होती है तथा मार्जन बहुत कम होता है|

 वैसे! सामान्यतः सभी प्रोडक्ट पर 15 से 20% का profit margin मिल जाता है| 

9- Gst

आपका प्रोडक्ट GST की किस कैटेगरी में आता है?, सरकार द्वारा उस पर कितना जीएसटी लिया जाता है? इसके बारे में भी आपको जान लेना चाहिए| 

GST के बारे में जानने क लिए यह पोस्ट पढ़ें:

1- जीएसटी क्या है तथा GST full form

2- GST reverse calculation formula क्या है?

10- Government policies

यह सबसे मुख्य विषय है| किसी भी business में Government policies का सबसे महत्वपूर्ण रोल होता है| सरकार जब किसी business को बंद नहीं कर सकती तो उसको वह regulate करती है| 

इस regulation में वह बहुत कड़े मानक तय करती है| 

उदाहरण के लिए:  सिगरेट, बीड़ी, तंबाकू, बम-पटाखे, खतरनाक केमिकल्स इत्यादि 

11- Business laws

जब भी आप कोई बिजनेस शुरू करें तो, उस प्रोडक्ट से संबंधित क्या कायदे कानून हैं? इनके बारे में आपको अवश्य जान लेना चाहिए|

जैसे कि:

1- फैक्ट्री को खोलने के क्या कानून है? – जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: factory act 1948 क्या है?

2- बच्चों को नौकरी पर रखने का क्या कानून है? – जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: Child labour कानून 1986 क्या है? 

3- वेतन के संबंध में क्या कानून हैं? – जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

न्यूनतम मजदूरी अधिनियम: 1948 क्या है? 

Equal remuneration act 1976 क्या है?

मजदूरी भुगतान अधिनियम: 1936 क्या है? (Payment of wages act)

4- महिलाओं के लिए maternity के समबंध क्या विशेष कानून है?- maternity benefit act क्या है?

5- जो प्रोडक्ट आपने सेलेक्ट किया है उसे आप कितनी मात्रा में स्टोर कर सकते हैं?  इत्यादि 

यदि आप कोई भी बिजनेस शुरू करने से पहले इन विषयों के बारे में जानकारी नहीं लेते तो आप भविष्य में जेल की हवा खा सकते हैं!!

3- Technology

यह आधुनिक दौर है| यहां पर यदि आप modern तरीके से business नहीं करेंगे तो आप रेस में पिछड़ जाएंगे|

इसके लिए आपको techNology का सहारा लेना चाहिए|

कोई भी बिजनेस शुरू करने में आज के समय में कुछ चीजें बहुत ही जरूरी है| Technology का ज्ञान उनमे से एक है|

Website making role in business starting

यदि आप आज के समय में अपने बिजनेस के लिए website नहीं बनाते तो इसका मतलब यह है कि आप अपने बिजनेस को कभी भी ग्रो नहीं कर सकते| 

इसके बारे में यदि मैं एक ही पोस्ट में सब चीज लिख दूंगा तो यह पोस्ट बहुत बड़ी हो जाएगी, इसलिए आपसे निवेदन है कि इस टॉपिक को अच्छी तरह समझने के लिए यह कुछ पोस्ट पढ़ लें| 

1- E-Business क्या होता है?

2- E-business के क्या फायदे होते हैं?

3- Scope of e business ई व्यवसाय का दायरा कितना है?

4- ई बिजनेस की सीमाएं तथा नुकसान क्या हैं?

5- Business के लिए website कैसे बनाये?

6- फ्री में Business का Online promotion कैसे करें?

Advertisement

किसी भी बिजनेस को शुरू करने के बाद या  शुरू करने से पहले advertisement का बहुत ही मुख्य रोल है| इसके लिए आपको Apple case study करनी चाहिए|

जब भी Apple कोई नया iphone model launch करती है, वह इस प्रकार का प्रचार शुरु करती है, जिससे curiosity (जिज्ञासा) उत्पन्न होती है|

अपने Business के Promotion के लिए आप को E-marketing के बारे में अवश्य ही पता होना चाहिए|

 यदि आपको नहीं पता है तो आप इस पोस्ट द्वारा ई मार्केटिंग के बारे में जान सकते हैं: E-Marketing कैसे करें?

इसके साथ आपको यह कुछ जरूरी पोस्ट भी पढ़ लेना चाहिए:

1- Payment gateway procedure क्या है?

2- Logistics Management कैसे करें?

Pros & Cons

कोई भी बिजनेस शुरू करने से पहले आपको उसके फायदे तथा नुकसान के बारे में अवश्य जानना चाहिए|

किसी भी बिजनेस में यदि फायदा होता है तो नुकसान भी अवश्य होता है| 

Business में होने वाले हर नुकसान का Solution भी अवश्य होता है|  वैसे तो मैं समय-समय पर आपको अपनी पोस्ट के माध्यम से Business Solutions उपलब्ध करवाता रहता हूं|

अब! आपको यह जानना है की आप नुकसान को कैसे कम कर सकते हैं? तथा फायदे का अधिक लाभ कैसे उठा सकते हैं?

दोस्तों, अगला जो पॉइंट है, इससे सभी लोग डरते हैं परंतु, इसके बिना बिजनेस में मजा ही नहीं है| 

4- Competitor (प्रतियोगी)

मान लो, यदि रेस की कोई प्रतियोगिता है, और उस प्रतियोगिता में केवल आप अकेले दौड़ने वाले हो तो,  क्या आप अपना पूरा एफर्ट लगाओगे?

निश्चित तौर पर!  इसका जवाब है “नहीं”

तेज दौड़ना तो दूर आप उसे पैदल चलकर पूरी करोगे!

इसलिए जब भी आपको नया बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले अपना एक Competitor (प्रतियोगी) जरूर चुन लें|

आपको इस Competitor (प्रतियोगी) का पूरा एनालिसिस करना है| 

जैसे कि:  

  1. उसने कितने साल पहले बिजनेस शुरू किया था?
  2. प्रोडक्ट की क्वालिटी कैसी है?
  3. उसका Customer Base क्या है?
  4. कमजोरी क्या है? अरे भाई!  बिजनेस में कमजोरी क्या है? मैं उसके शरीर की कमजोरी की बात नहीं कर रहा!! 
  5. ताकत क्या है? हां-हां भाई बिजनेस की ताकत की ही बात कर रहा हूं!! 
  6. माल कहाँ से खरीदता है?
  7. बेचता कहाँ पर है?

यह सब करने के लिए आपको अपने मन में अपने Competitor (प्रतियोगी) के प्रति जलन का भाव पैदा करना है! यह भाव आपको ऊर्जा देगा!

ओ भाई! जलन का मतलब: Business में जलन से है| 

आप लोग जलन का मतलब यह मत निकाल लेना कि उसके बच्चे उठवा लो, उसकी दुकान/फैक्ट्री में आग लगवा दो, उसके यहां रेड पड़वा दो इत्यादि|

आप कोई भी ऐसा काम नहीं करना जो अनैतिक हो| आपको उससे आगे निकलने के लिए अच्छे काम करने हैं|

मेरे कहने का मतलब है:

हेल्थी कंपटीशन मेरे भाई, हेल्थी कंपटीशन!

उदाहरण

इसके लिए मैं अपनी स्वयं की जिंदगी का उदाहरण दे रहा हूं| जब मैंने mattress का business  शुरू किया था तो 1 महीने तक मेरी बोनी भी नहीं हुई|

एक महीने बाद जाकर कहीं एक गद्दा बिका| 

गद्दा बिकने पर मेरा Competitor (प्रतियोगी), मुझे सुनाने के लिए, किसी से जोर से बोला

“गद्दे का बिजनेस करने के लिए बहुत सारे नोट चाहिए!!

एक गद्दे में तो चाय-पानी का भी खर्चा भी नहीं निकलता” 

बस! यहीं से टर्निंग प्वाइंट शुरू हो गया| पहले जब ग्राहक आ रहा था तो मुझसे गद्दे नहीं बिक रहे थे, क्योंकि मेरे अंदर कहीं ना कहीं ऊर्जा की कमी अवश्य होगी|

मेरे पड़ोसी के इस वाक्य ने मेरे अंदर ऐसा जोश भर दिया कि, मेरे दिमाग में उसकी यह बात चुभती रहती थी और मैं हर कीमत पर अपने ग्राहक को गद्दा बेचना चाहता था| 

इसका रिजल्ट यह निकला कि प्रत्येक ग्राहक गद्दा लेकर ही जाता था| अब! यहां पर सोचने वाली बात यह है कि यदि मेरा Competitor (प्रतियोगी) नहीं होता तो मेरे अंदर जोश कहाँ से आता? 

यदि आप थोड़ा सा प्रोडक्ट कैसे बेचना है इसके बारे में जानना चाहते हैं तो यह कुछ पोस्ट पढ़ें:

1- ग्राहक को समझने के तरीके

2- Selling स्किल्स को निखारने के तरीके

3- ग्राहक को संतुष्ट करने के आसान तरीके

4- प्रोडक्ट बेचने के आसान तरीके

इन सब पोस्ट को आप इंग्लिश में पढ़ना चाहते हैं तो यह चारों पोस्टों का सम्मिश्रण है|

How to sell products: English Guide

5- Goal

Business शुरू करने से पहले लक्ष्य भी तय होना जरूरी है| बिना लक्ष्य के आपको कहां जाना है कैसे तय करेंगे| अब! आपके दिमाग में सवाल आ रहा होगा कि नए बिजनेस में लक्ष्य कैसे तय करें?

तो भैया! वह Competitor किसलिए हैं? 

उसी से हिसाब लगा लो की आप का लक्ष्य क्या है?

वरना, पहली बार जब कोई आदमी रेस में भागता है तो, उसके पास पहले फर्स्ट आए धावकों के data होते हैं| उन्हीं में से वह अपना लक्ष्य बना लेता है| 

6- Place

जब भी आपके मन में प्रश्न आता होगा कि बिजनेस कैसे शुरू करें? (How to start a business) तो हो सकता है कि आपने भी गूगल पर यह टाइप किया हो (how to start a business in hindi) 

अब! यहां पर सोचने वाली बात यह है कि आपने अपने प्रश्न का जवाब ढूंढने के लिए बिल्कुल सही प्लेटफॉर्म चुना| यही आपको बिजनेस में भी करना है| किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले आपको उपयुक्त स्थान चुन लेना चाहिए|

 वरना आपको बहुत सारे दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है|

 जैसे कि:

1- मान लीजिए आप ऐसी गली में बिजनेस करते हैं जहां पर गाड़ी आपके गोदाम तक नहीं आ पाती तो, आपको बहुत ज्यादा परेशानी होगी| 

2- आप किसी ऐसे स्थान पर बिजनेस करते हैं जहां पर बिजली तथा पानी की व्यवस्था नहीं है|

3-  किसी ऐसे स्थान पर बिजनेस करते हैं जहां पर लेबर मिलना मुश्किल है|

4-  ऐसे स्थान पर बिजनेस करते हैं जहां पर internet की पहुंच ही नहीं है| वैसे! मेरा ऐसा अनुमान है कि Internet की समस्या भी जल्दी हमारे देश में खत्म हो जाएगी|

7- Space

किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले  जगह का बहुत महत्व है| 

मैंने आपको अपनी एक पोस्ट “दुबई में बिजनेस सेटअप कैसे करें? (business setup in Dubai)” में बताया था कि दुबई में ऑफिस स्पेस बहुत महंगा है|

आपका प्रोडक्ट यदि ऐसा है जो ज्यादा जगह घेरता है तो आपको आने वाले समय में दिक्कत हो सकती है, इसलिए नया बिजनेस शुरू करने से पहले इस बिंदु पर भी अवश्य ध्यान दें|

8- Finance

पैसा-पैसा-पैसा!!!!!!

बिजनेस में कहाँ से लायें पैसा? कोई भी बिजनेस शुरू करने से पहले आपको अपने वित्तीय संसाधनों को अच्छी तरह टटोल लेना चाहिए|

कोई भी बिजनेस रातों-रात नहीं चलता तथा कोई भी ऐसा बिजनेस नहीं है जो बिना पैसे के चल जाए!

किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले आपको उसमें कितनी धन की आवश्यकता पड़ेगी इसके बारे में भी अवश्य जान लेना चाहिए|

यदि आप इस विषय को बिना गौर किए, बिजनेस शुरू कर देते हैं और आपके पास में धन का अभाव है तो, आपका बिजनेस में फेल होना तय है|

कितने भी बड़े बिजनेस या छोटी कंपनियां हो बिजनेस शुरू करने से पहले, हमेशा उस बिजनेस में कितना धन लगेगा तथा कहां से वह finance का इंतजाम करेंगे इसके विषय में अध्ययन करते हैं|

छोटी कंपनी के बारे में जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: Small Company की Definition, फ़ायदे तथा कौन सी कंपनी स्मॉल कंपनी मानी जाएगी

कंपनियां तो अपने बिजनेस को बड़ा करने के लिए IPO ला सकती हैं| 

आईपीओ के बारे में जानने के लिए पढ़ें: IPO क्या होता है?

आप क्या करोगे?

यदि आप loan लेकर बिजनेस खोलने के बारे में सोच रहे हैं तो, आपको बहुत ही सावधानी पूर्वक अध्ययन कर लेना चाहिए|

Business loan लेने के लिए आप यह पोस्ट पढ़ सकते हैं: Business loan कैसे मिलेगा?

9- Customer base

यदि आप बिजनेस बनाए हैं तो सबसे पहले आपको कस्टमर बेस क्या होता है? इसके बारे में जान लेना चाहिए|

जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: Customer base क्या होता है?

यदि आपने यह पोस्ट पढ़ ली है तो, आप यह भी जान गए होंगे कि कस्टमर बेस किसी भी बिजनेस के लिए कितना जरूरी है?

10- Market Research

कोई भी नया धंधा शुरू करने से पहले मार्केट की रिसर्च करना बहुत जरूरी है| अब!  यहां पर प्रश्न यह उठता है कि मार्केट रिसर्च कैसे करें?

तो इसके लिए आप यह तरीके अपना सकते हैं:

1- Internet के माध्यम से

2- Business study books पढ़कर

3- अपने किसी करीबी के द्वारा|

4- स्वयं मार्केट में घूम कर: “अब यह मत सोच लेना कि मार्केट रिसर्च करने के लिए मार्केट में घूमने की क्या जरूरत है?, मैं इतना बड़ा आदमी और मार्केट में रिसर्च करूंगा!!, मुझे तो सब पता है इत्यादि”

5- यदि आप उस प्रोडक्ट को खरीद सकते हैं तो, उसे खरीदकर भी उसके बारे में काफी कुछ जान सकते हैं| 

11- Customer study

किसी भी बिजनेस में उसके ग्राहकों कि सोच क्या है? इसके बारे में जानना बहुत जरूरी है|  

जैसे कि: Apple user के मन में औरों से एक अलग फीलिंग आती है| वह अपने स्टेटस के लिए Apple के product ज्यादा इस्तेमाल करते हैं|

यह बात एकदम अलग है कि एप्पल के प्रोडक्ट अच्छे होते हैं| 

12- Staff Management

किसी भी बिजनेस  शुरू करने के लिए business management एक मस्तिष्क की तरह काम करता है| यदि आपका स्टाफ अच्छा नहीं होगा तो, आपको बिजनेस में तरक्की करने के लिए दुगनी मेहनत करनी पड़ेगी|

स्टाफ मैनेजमेंट में आपको इन लोगों की जरूरत पड़ती है| 

  1. Worker
  2. Employer
  3. CA (chartered accountant): बिजनेस में जीएसटी भरना,  लाइसेंसी करण इत्यादि बहुत पेचीदा काम होते हैं इसके लिए आप एक चार्टर्ड अकाउंटेंट रख सकते हैं| 
  4. Advocate: आपके बिजनेस में कोई कानूनी अड़चन आने पर| 
  5. Transporter / रिक्शा पर माल ढोने वाला / छोटा हाथी जैसे वाहन चलाने वाला 

13- Business Name

भाई लोगों!  आपका बिजनेस है तो नाम भी आपको सोचना चाहिए परंतु परंतु परंतु ऐसा हो सकता है कि आप अभी छोटे से बिजनेस कर रहे हो|

और मेरी नजर में छोटे बिजनेस से ही शुरुआत करनी चाहिए|

 हो सकता है आप इनमें से किसी तरीके से नए बिज़नेस की शुरुआत करना चाहते हो| जैसे कि: 

1- Sole proprietorship- ज्यादा जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ लें: Sole proprietorship क्या होती है?

2- Partnership firm – ज्यादा जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ लें: पार्टनरशिप फर्म क्या होती है? इसे खोलने के फ़ायदे तथा नुकसान क्या होते हैं?

साथ ही पार्टनरशिप डीड के बारे में भी अवश्य जान ले: Partnership deed क्या होती है?

3- LLP- ज्यादा जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ लें: LLP: लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप फर्म क्या होती है? 

अब!  ध्यान देने वाली बात यह है कि जब आप इसे किसी कंपनी में परिवर्तित करना चाहेंगे तब आपको उसके नाम से संबंधित कुछ दिक्कत आ सकती हैं|

इसलिए आपको अपने बिजनेस का नाम सोच समझकर रखना चाहिए|

जब आप अपने बिजनेस को कंपनी में बदलने की सोचेंगे तो आपको नाम के संबंध में क्या दिक्कत है आ सकती हैं|

कंपनी के बारे में जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ ले: कंपनी क्या होती है?, भारत में कैसे खोले? तथा कंपनी तथा साझेदारी में क्या अंतर होता है?

14- Business Documentation

जब भी आप कोई New business Start करना चाहते हैं तो आपको बहुत सारे दस्तावेजों की भी जरूरत पड़ती है| शुरुआत में आपको ऐसा भी लग सकता है कि यह व्यवस्था बहुत खराब है|

बहुत सारे डिपार्टमेंट आपके ऊपर एकदम से ऐसे झपट कर पड़ेंगे जैसे मानो बाजार में कोई नया मुर्गा कटने के लिए आया हो!! 

ऐसा हो सकता है कि आपको इस व्यवस्था से चिढ़ होने लगे परंतु, आपको यह सोचना चाहिए कि इतने बड़े देश को चलाने के लिए पैसा चाहिए और वह पैसा आएगा आपके बिजनेस से!! हा-हा-हा-हा-हा-हा 

चलिए! अब कुछ business documents पर नजर डाल लेते हैं| 

Commercial Electricity meter

फ्री की बिजली वालों, बिजनेस में आपको यह सुख प्राप्त नहीं होगा बल्कि, आपकी बढ़ी हुई unit price द्वारा होने वाली कमाई से सरकार फ्री बिजली इस्तेमाल करने वालों को लाभ देती है!!

और यदि आप बिना कमर्शियल इलेक्ट्रिसिटी मीटर लगवाए, अपने बिजनेस में बिजली का इस्तेमाल करते हैं तो, बिजली विभाग द्वारा आपके ऊपर मिस यूज चार्ज लगा दिया जाएगा| 

और यह मिस यू चार्ज इतना होता है कि हो सकता है कि आपको उसे भरने के लिए अलग से एक loan लेना पड़े!! 

इसलिए ऐसी गलती कभी मत करना|

चलो कोई बात नहीं!!

आगे बढ़ते हैं| 

Commercial water meter

यदि आपके business premises में पीने के पानी का कनेक्शन है तो, उसे भी जितनी जल्दी हो सके कमर्शियल करवा लेना|

 वरना वहीं बिजली के मीटर वाली बात!! इस पर भी अप्लाई होगी| 

Trade License

ट्रेड लाइसेंस द्वारा सरकार केवल आपसे ट्रेडिंग करने का शुल्क लेती है| 

Gst

जीएसटी के बारे में तो आप सब लोग जानते ही हैं| पहले साल आपको जीएसटी नंबर लेने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि जीएसटी नंबर लेने के लिए कुछ क्राइटेरिया फिक्स है| जैसे कि:  दिल्ली में जीएसटी नंबर अनिवार्यता के लिए एक राशि को  फिक्स किया गया है| 

अब!  पहले पहले साल आपको क्या पता कि आपकी कितने टन और होगी? यदि आपको लगता है तो आप शुरुआत GST number लेकर कर सकते हैं|

साथ ही आपको अपने business के बारे में यह पता होना चाहिए कि उसमें कितनी जीएसटी लगती है? 

IE Code

यदि आप import-export business करना चाहते हैं तो इंपोर्ट एक्सपोर्ट कोड लेना अनिवार्य है| 

यदि आप जानना चाहते हैं कि एक्सपोर्ट इंपोर्ट बिजनेस कैसे शुरू करें तो यह पोस्ट पढ़े: Export import business कैसे शुरू करें?

Conversion tax

यदि आप दिल्ली में बिजनेस करने के बारे में सोच रहे हैं तो, यह दिल्ली नगर निगम द्वारा लगाया गया टैक्स है| इसमें आपको कन्वर्जन फीस तथा पार्किंग शुल्क देना पड़ता है| इसे आपको 10 साल तक के लिए देना पड़ता है|

इसमें पार्किंग शुल्क केवल एक बार देना पड़ता है| 

Commercial property tax

कन्वर्जन टैक्स तो आप देंगे ही साथ में जिस प्रॉपर्टी पर आपका हाउस टैक्स बन रहा है वह भी कमर्शल प्रॉपर्टी टैक्स के अंतर्गत आ जाएगी| 

Required licenses

किसी भी नए बिजनेस को शुरू करने से पहले आपको उसके बारे में जितने भी जरूरी लाइसेंस हैं उनके बारे में पता कर लेना चाहिए| 

Fire department NOC

यदि आप ऐसा बिजनेस शुरू करना चाहते हैं जिसमें अति ज्वलनशील पदार्थ शामिल है तो आपको अवश्य ही fire Department से N.O.C. (No objection certificate) लेनी पड़ेगी|

वरना उपहार सिनेमा कांड तो याद होगा ना आपको????? 

15- Business Accessories

एक नया बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो उसके लिए gadgets भी अवश्य चाहिए!! वैसे आप इन गैजेट्स के बिना भी शुरू कर सकते हैं परंतु, अपने business को modernise तरीके से चलाने के लिए आपको इनकी जरूरत अवश्य पड़ेगी| 

Mobile

ऐसा मोबाइल होना चाहिए जिसमें आप आराम से अपने प्रोडक्ट की क्वालिटी वाली फोटो तथा वीडियो बना सकें, ईमेल भेज सकें|

Visiting card 

आपका एक आकर्षक विजिटिंग कार्ड होना चाहिए| जब मैं international fair मैं जाता हूं तो वहां के लिए मैंने प्लास्टिक का बेहतरीन वाला विजिटिंग कार्ड बनवा रखा है|

इस एक विजिटिंग कार्ड की कीमत ₹10 है! परंतु इससे मेरा स्टेटस बढ़ जाता है| 

Calculator

केलकुलेटर किसी भी बिजनेस के लिए सबसे जरूरी गैजेट में से एक है| समय आने पर मैं  कौन सा कैलकुलेटर अच्छा है? तथा केलकुलेटर चलाने के कुछ टिप्स भी आपको दे दूंगा| 

फिलहाल इस पोस्ट में इन सब की जरूरत नहीं है|

Laptop

Business को चलाने के लिए laptop / Desktop बहुत जरूरी है| इसकी मदद से आप printer को कनेक्ट करके आसानी से बिल भी जनरेट कर सकते हैं| 

लैपटॉप जरूरी है, अनिवार्य नहीं है| यह तो आपको सोचना है कि आपको अपने बिजनेस को किस प्रकार चलाना है? 

Printer

एक अच्छी क्वालिटी का प्रिंटर ले लें| अब!  हाथ से बिल बनाने के जमाने चले गए! आप लोग जितनी जल्दी इस बात को समझते हैं उतना ही India की Business Industry के लिए अच्छा है|

समय आने पर अच्छे प्रिंटर के बारे में भी जानकारी दे दूंगा| 

Stationary

स्टेशनरी में आपको, Steplor, pen, pencil, glue, scale, white board marker, permanent marker, diary, notepad, clip इत्यादि रख लेना चाहिए| 

Clock

“घड़ी” – अरे वाह! यह आपके लिए नहीं है, आपके बिजनेस में उन लोगों के लिए है जिन्हें जल्दी घर जाना है, तथा जो लेट आते हैं| 

Wifi Camera

यदि आप कोई भी नया बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो मेरी राय में आपको तीसरी आँख का बंदोबस्त अवश्य ही कर लेना चाहिए|

तीसरी आंख से मेरा मतलब Wifi Camera से है|

इससे आपके बिजनेस की सिक्योरिटी बहुत मजबूत हो जाती है| 

16- Business Safety Items

अपने बिजनेस के अनुसार आपको सुरक्षा की वस्तुओं को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए|

 जैसे कि: Fire cylinder, आग बुझाने के लिए मिट्टी / रेत इत्यादि 

17- Business Cleaning Items

साफ-सफाई है जहां पर, लक्ष्मी का निवास वहां है पर!

कोई भी नया बिजनेस शुरू करने जा रहे हैं तो इन वस्तुओं का भी संग्रह अवश्य कर लें जैसे कि: झाड़ू/ पोंछा,वाइपर, Foot rest इत्यादि 

FAQs: How to start a business

कोरोना में बिजनेस कैसे शुरु करें?

यदि आपको कोरोना काल  मैं बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो, आपको ई-बिजनेस शुरू करना चाहिए|

रुई की बत्ती, कंस्ट्रक्शन बिज़नेस, पंखे का कंडेनसर बनाने का बिज़नेस, रेत का बिजनेस शुरू करने का फार्मूला क्या है?

किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए बेसिक तरीका मैं आपको शार्ट में बता देता हूं|
1- Product research
2- Product knowledge
3- E-marketing
4- Proper planning
5- Financial knowledge 

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं?

1- सबसे पहले बिजनेस के लिए जरूरी बातों को लिखें|
2- इसके बाद उस बिजनेस से संबंधित businesses की स्टडी करें|
3- अपना एक प्रतियोगिता करें,  इसी से आपका लक्ष्य निर्धारित होगा|
4- Product consumer तक कैसे पहुंचेगा इसकी सेटिंग करें|
5- ग्राहक से फीडबैक लेने के लिए एक पोर्टल अवश्य बनाएं|
6- मैनेजमेंट का खाका तैयार करें|
7-  Product की कमियां तथा खूबियां मालूम करें|
8-  जिस प्रोडक्ट का बिजनेस करना चाहते हो उसके मार्केट का रिसर्च करें| 
9- Product की डिमांड तथा सप्लाई का अध्ययन करें|
10- अपने प्रोडक्ट से संबंधित सरकार की नीतियों का विश्लेषण करें| 
11- बिजनेस में कितना पैसा लगेगा इसका अनुमान लगाएं|

क्या किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले कोर्स करना चाहिए?

जी नहीं, मैं ऐसा नहीं मानता| यदि ऐसा होता तो कम पढ़े लिखे लोग बिजनेस में कभी भी तरक्की ना कर पाते| हां, यह बात अलग है कि अब दौर बदल चुका है और आपको अपने बिजनेस की तरक्की के लिए internet  की सहायता लेनी पड़ेगी और इसके लिए आपका पढ़ा लिखा होना बहुत जरूरी है|

किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए एक ऐसा मंत्र बताए जिससे कम से कम नुकसान लगे?

यदि आप कोई नया बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो, उसे बहुत ही ना के बराबर की धनराशि से शुरू करें|  फिर जिस हिसाब से आपकी समझ बढ़ती जाए, आप उसमें पूंजी का निवेश करते चले जाएँ| यदि आप इस फार्मूले का इस्तेमाल करेंगे तो आपका नुकसान लगने की संभावनाएं कम होती जाएंगी| 

नया बिजनेस शुरू करने में क्या सबसे जरूरी चीज है?

सब्र, यदि आप ऐसा सोचते हैं कि आज आपने बिजनेस खोला और कल को आप करोड़पति हो जाएंगे तो माफ कीजिएगा! ऐसा कोई भी बिजनेस नहीं है, इसीलिए किसी बिजनेस को शुरू करने में सब्र (Patience) सबसे महत्वपूर्ण चीज है| 

 साथ ही इन्हें भी अवश्य देखें:

GDP क्या है तथा GDP meaning in Hindi

e-Rupi क्या है?

Business environment क्या होता है?

गद्दे बनाने की फैक्ट्री कैसे लगायें?

अरे बाप रे बाप! पोस्ट लिखते लिखते मैं इतना खो गया कि कुछ ज्यादा ही लंबी पोस्ट हो गई!

खैर! कोई बात नहीं|

यदि आपको यह पोस्ट “किसी भी बिजनेस को कैसे शुरू करें (how to start a business in Hindi)” अच्छी लगी हो तो कृपया इसे शेयर अवश्य करें|

इससे मेरा मनोबल बढ़ेगा|

Business से संबंधित अगली पोस्ट में, मैं फिर मिलूंगा तब तक के लिए नमस्कार 

धन्यवाद 

Previous articleGDP क्‍या है, इसके बारे में संपूर्ण जानकारी | Meaning of GDP in Hindi
Next articleGST full form | जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) तथा GST के प्रकार क्या है?
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!