Dedicated hosting vs cloud hosting | डेडीकेटेड होस्टिंग Vs क्लाउड होस्टिंग

192

दोस्तों,  इस पोस्ट के माध्यम से हम  “dedicated hosting vs cloud hosting” के अंतर को समझेंगे| यदि आप कोई website/blog बनाना चाहते हैं तो आपके लिए dedicated hosting तथा cloud hosting के बीच के अंतर (difference between dedicated hosting and cloud hosting) को समझना बहुत जरूरी है! 

तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं आज का टॉपिक “Dedicated hosting vs cloud hosting (डेडीकेटेड होस्टिंग Vs क्लाउड होस्टिंग)” 

Web Hosting क्या होती है?

Web hosting एक ऐसी service है जो organizations and individuals को internet पर Webpage या website post करने की अनुमति देती है। Web Host या Web Hosting service, एक ऐसा business है जो internet पर देखे जाने वाले webpage या website के लिए आवश्यक तकनीकों और सेवाओं को प्रदान करता है।

इन websites को server नामक Special computer पर Host या Stored किया जाता है। जब internet user आपकी वेबसाइट देखना चाहते हैं, तो उन्हें केवल अपने web browser में आपकी वेबसाइट पता या domain Name टाइप पड़ेगा। उनका कंप्यूटर, आपके उस सर्वर से जुड़ जाएगा और आपके webpage ब्राउज़र के माध्यम से उन तक पहुंचा दिए जाएंगे।

यदि मैं एक लाइन में बताना चाहूँ की वेब होस्टिंग क्या होती है? 

तो, वेब होस्टिंग का अर्थ होता है: “Website data storage”

यदि आपको समझ नहीं आया कि वेब होस्टिंग क्या होती है? तो मैं इसे और भी सरल भाषा में समझा देता हूं| 

वेब होस्टिंग की परिभाषा: “ वेब होस्टिंग के द्वारा आपकी वेबसाइट पर जो भी सामग्री है उसे एक स्पेशल कंप्यूटर में स्टोर कर दिया जाता है| इस स्पेशल कंप्यूटर को आप सर्वर कह सकते हैं| जब भी कोई इंटरनेट ब्राउज़र के द्वारा आपकी वेबसाइट का नाम डालेगा तो वह सीधा आपके सर्वर से जुड़ जाएगा| जुड़ने के बाद आपकी वेबसाइट पर जो भी सामग्री उपलब्ध होगी वह उसको देखने लगेगी| 

उदाहरण:

Business lok एक वेबसाइट है| इसका डोमेन नेम businesslok.com है| जब आप google या अन्य किसी search engine पर “businesslok.com” टाइप करेंगे तो आप सीधा इस वेबसाइट पर आ जाएंगे|

अब!  यहां पर समझने वाली बात यह है कि इस वेबसाइट पर मैंने जो कुछ भी data (Video, Text, Images) डाला हुआ है उसे मैंने कहां पर स्टोर किया हुआ है? 

तो इसका जवाब है, इस पर लिखा हुआ सारा डाटा (Video, Text, Images) मैंने server पर स्टोर किया हुआ है| यह server की सुविधा web hosting companies उपलब्ध करवाती हैं| 

वेबसाइट कैसे बनाएं इसे जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: website कैसे बनाये?

Hosting Types

  • Shared Web Hosting
  • Reseller Web Hosting
  • Virtual private server (VPS) hosting
  • Dedicated server hosting
  • Cloud hosting

Shared Web Hosting क्या होती है?

जैसा कि इसके नाम से ही समझ में आ रहा है “Shared”  

यानी की इसमें एक web server को एक से अधिक user के बीच बांट दिया जाता है।

ऐसे लोग इस्तेमाल क्यों करते हैं?

जो लोग Online earning करना चाहते हैं उनके लिए blogging सबसे अच्छा प्लेटफार्म है| अब! शुरुआती दौर में उनकी website  पर बहुत कम visitor  आते हैं|

Online earning  के बारे में जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें: Online Money कमाने के तरीके

ऐसी स्थिति में! हर कोई पैसों की बचत करना चाहता है| शेयर्ड होस्टिंग में एक सर्वर को कई लोगों के बीच बांट दिया जाता है| 

इस होस्टिंग में एक ही सर्वर होगा और उससे बहुत सारी वेबसाइट कनेक्ट होंगी| इसमें सीमित स्पेस होता है| कोई भी शख्स 50 जीबी तक के स्पेस की होस्टिंग ले सकता है| उदाहरण के लिए: एक मॉल में बहुत सारी  दुकाने हैं| अब! आप इसमें से कितना हिस्सा लेना चाहते हैं?

बिना वेबसाइट बनाए ऑनलाइन बिजनेस करने के लिए यह पोस्ट पढ़े: बिना website बनाये कैसे online business करें?

Shared Hosting  कैसे काम करती है? 

इसे समझने के लिए हमें उदाहरण की सहायता लेंगे| 

उदाहरण:

मान लीजिए, आपके कंप्यूटर में 100 GB Data स्टोर हो सकता है| अब आपके पास में 10 लोग आते हैं और कहते हैं कि “ उन्हें अपनी कुछ Digital files रखने के लिए आपके कंप्यूटर में किराए पर स्टोरेज चाहिए” 

आप उन्हें कुछ कीमत तय कर देते हैं तथा प्रत्येक व्यक्ति को 10 GB की स्टोरेज दे देते हैं|

ठीक ऐसा ही! शेयर्ड होस्टिंग में भी होता है| 

Web hosting companies एक सरवर में कई लोगों को हिस्सेदार बना देती हैं| इससे उनको कमाई भी हो जाती है और साथ ही साथ इस्तेमाल करने वाले के पैसे भी बच जाते हैं| 

Reseller Web Hosting क्या होती है?

Reseller Hosting meaning in Hindi: “ऐसी वैभव स्टिंग जिसे आप उन्हें बेच सकते हैं (पुनर्विक्रेता होस्टिंग)” 

इस वेब होस्टिंग के द्वारा आप होस्टिंग को दोबारा बेच सकते हैं| 

उदाहरण

मान लीजिए, आप एक freelancer या website बनाने वाली कंपनी खोलते हैं| अब! ऐसे में यदि आप हर ग्राहक के लिए होस्टिंग खरीदेंगे तो आपको यह बहुत महंगा पड़ता है| 

इसके द्वारा आप  एक से अधिक वेबसाइट को होस्ट कर सकते हैं| 

आप इस होस्टिंग को बेच भी सकते हैं|  इसके लिए आप अपना खुद का दाम तय कर सकते हैं|  इसे आप अपनी ब्रांडिंग के साथ बेच सकते हैं| 

कंपनी क्या होती है जानने के लिए यह पोस्ट पढ़े: कंपनी क्या होती है?, भारत में कैसे खोले?

Dedicated server hosting क्या होती है?

डेडीकेटेड होस्टिंग को एक उदाहरण के माध्यम से समझते हैं: मान लीजिए एक मॉल में बहुत सारी दुकानें हैं, और इसमें आपने सारी दुकाने खुद ही ले ली| 

जब आप कोई लैपटॉप खरीदने जाते हैं तो, आपको laptop मैं क्या क्या configuration चाहिए इसके बारे में बताते हैं| 

ठीक इसी प्रकार! जब आप कोई Dedicated server hosting लेने जाते हैं तो आप hosting provide करने वाली company को बताते हैं कि आपको होस्टिंग में क्या-क्या कंफीग्रेशन चाहिए?

इसी के आधार पर होस्टिंग कंपनियां, आपकी दी हुई configuration का सर्वर बनाकर आपको देती हैं| 

VPS (Virtual Private Server) होस्टिंग क्या होती है?

वर्चुअल प्राइवेट सर्वर में सर्वर पर एक निश्चित जगह आपके लिए फिक्स कर दी जाती है| इस स्पेस का इस्तेमाल कोई दूसरा नहीं कर सकता| 

उदाहरण:

मान लीजिए, आपने जो डेडीकेटेड सर्वर बनवाया था उसमें 20 GB की RAM तथा 1 TB की hard disk थी| 

इस डेडीकेटेड सर्वर में से छोटे-छोटे हिस्से बनाकर आगे बेच दिया जाता है, इसे ही VPS (Virtual Private Server) होस्टिंग कहते हैं|

जैसे कि:  

इस डेडीकेटेड सर्वर के चार हिस्से कर दिए|

एक हिस्से में 50 GB RAM तथा 250 GB की hard disk का स्पेस दे दिया जाएगा| 

Cloud hosting क्या होती है?

क्लाउड होस्टिंग में एक वेबसाईट को बहुत सारे सर्वर्स पर वेबसाइट को लोड कर दिया जाता है| इससे सभी सर्वर्स का लोड बढ़ जाता है| एक सर्वर के खराब होने पर दूसरा सर्वर उसकी जगह ले लेता है, इसलिए वेबसाइट कभी डाउन नहीं जाती| 

क्लाउड होस्टिंग में आपको, अपना सर्वर खुद बनाना होता है| 

अब! यहां पर महत्वपूर्ण प्रश्न उठता है कि “Dedicated hosting तथा Cloud hosting में क्या अंतर होता है? (dedicated hosting vs cloud hosting)”

आइए!  जानते हैं|

Dedicated hosting vs cloud hosting

जब भी हम किसी  वेबसाइट को बनाने की शुरुआत करते हैं तो हमारे मन में होस्टिंग को लेकर बहुत सारे प्रश्न होते हैं| इनमें से एक प्रश्न  “Dedicated hosting vs cloud hosting” यह भी होता है| 

आइए एक डिफरेंस टेबल द्वारा “dedicated hosting vs cloud hosting”  को समझने का प्रयत्न करते हैं| 

PointsDedicated Cloud 
Cost Factor (लागत कारक)Dedicated server की लागत अधिक होती है, क्योंकि हम कंपनी द्वारा अपनी आवश्यकता नुसार सर्वर बनवाते हैं|साथ ही इसमें, सर्वर को संभालने के लिए पेशेवर विशेषज्ञता (professional expertise) और अधिक धन की आवश्यकता होती है, इआसलिए यह बहुत महंगा है|छोटी कंपनियां एक dedicated server लेने का जोखिम नहीं उठा सकती हैं।Cloud server काफी किफ़ायती होता है क्योंकि, आप केवल उस स्थान और सेवाओं के लिए भुगतान करते हैं जिसका आप उपयोग कर रहे होते हैं। server operation की सभी विशेषज्ञ जानकारीprovider द्वारा ही की जाती है। सर्वर को संभालने के लिए आपको किसी अलग से ज्ञान की आवश्यकता नहीं पड़ती है।
Management (प्रबंध)Dedicated server में मालिक का सर्वर पर सीधा नियंत्रण होता है, और जरूरत के हिसाब से सर्वर को हैंडल कर सकता है। हालांकि समर्पित सर्वर के रखरखाव और प्रबंधन के लिए, हमें सर्वर के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए|इसमें हमारे पास सर्वर का पूरा नियंत्रण होता है।Cloud server को managed किया जाता है क्योंकि उपयोगकर्ता का सर्वर पर कोई नियंत्रण नहीं होता है। एक dedicated server को manage करने की तुलना में Cloud server को manage करना बहुत कठिन है: single dedicated server के विपरीत, Cloud server में, हम सैकड़ों virtual servers के साथ काम करते हैं।
Reliable(विश्वसनीय)एक dedicated server में, एक ही सर्वर होता है|इसलिए, यदि सिस्टम में कोई खराबी आती है, तो यह पूरे सर्वर और डेटा को भी क्रैश कर देगा, इससे सर्वर down चला जाता है|Cloud server में, कई सर्वर आपकी website instances को होल्ड करते हैं। यदि कोई सर्वर बंद हो जाता है या offlineहो जाता है, तो वेब पेज का instance दूसरे सर्वर द्वारा नियंत्रित हो जाता है। ये विभिन्न सर्वर cloud storage को और भी अधिक विश्वसनीय बनाते हैं|
Security(सुरक्षा)सुरक्षा की दृष्टि से Dedicated server में प्रवेश करना बहुत कठिन है।Cloud service provider सुरक्षा प्रदान करती है, और Cloud server बेहद सुरक्षित हैं।
Customizations(अनुकूलन)एक dedicated server server होने के कारण, ग्राहक के पास अपने सर्वर को अपने मुताबिक configuer करने की पूरी शक्ति होती है, इसलिए वह अपनी जरूरत के अनुसार अपने सर्वर को कॉन्फ़िगर कर सकता है।Cloud servers में क्लाइंट को बहुत अधिक एक्सेस नहीं मिलता, इसलिए cloud service user सर्वर को कॉन्फ़िगर नहीं करता है।
Integration of Tools(उपकरणों का एकीकरण)एक Dedicated server में, यदि आप लग से सॉफ़्टवेयर तथा अन्य उपयोगिता-आधारित संसाधनों के साथ जोड़ना चाहते हैं, तो आपको cloud server के विपरीत अतिरिक्त भुगतान करना पड़ेगा।Cloud server में आपको कम खर्च में कई सेवाएं मिल जाती हैं|
Scalability(अनुमापकता)हम एक dedicated server के setup में बदलाव नहीं कर सकते क्योंकि, हमारे पास dedicated hardware ऑपरेशन में है।Cloud server बेहद लचीले होते हैं, उपयोग के अनुसार आप कुछ भी समायोजित कर सकते हैं, जैसे कि संसाधन और स्थान।
Dedicated hosting vs cloud hosting

Cloud hosting vs dedicated hosting technical comparison

दोस्तों, Dedicated hosting vs cloud hosting का अंतर तो आप समझ गए होगे|  

अब! Cloud hosting vs dedicated hosting का एक technical comparison कर लेते हैं| 

Public cloud serverDedicated server
Types of infrastructure Virtualized serverDedicated server
Root AccessNoYes
Load balancerYesYes
VPNYesYes
User administrationYesYes
Role administrationYesYes
Image creationYesPlanned
Shared storageYesNo
ConfigurationScalable at any timeCan not be changed
Private networkYesYes
APIYesYes
Cloud hosting vs dedicated hosting

FAQs: dedicated hosting vs cloud hosting

डेडिकेटेड होस्टिंग तथा क्लाउड होस्टिंग में से कौन-सी होस्टिंग सस्ती है?

क्लाउड होस्टिंग सस्ती है?

वेब होस्टिंग क्या है?

वेब होस्टिंग ऐसी सेवा होती है जो कंपनियों (web hosting companies) की ओर से उपलब्ध कराई जाती है। इस service में सर्वर पर जगह बेचती है या लीज पर देती है, जहाँ आप अपनी web files store करते हैं। इससे internet पर आपकी वेबसाइट तक पहुँचा जा सकता है।

वेब होस्टिंग कैसे काम करती है?

जब आप कोई Web hosting plan खरीदते हैं, तो web hosting provider company आपकी साइट सर्वर पर स्टोर की जाती है|
कोई, जब भी इंटरनेट पर सर्च इंजन के माध्यम से आप की वेबसाइट का डोमेन नेम डालता है तो वह सीधा उस सर्वर पर पहुंच जाता है, जहां पर आपका data स्टोर है| 
वेबसाइट होस्टिंग पैकेज खरीदने का अर्थ यह है कि आप इंटरनेट पर सर्वर के लिए जगह खरीद रहे हैं। यह किसी कंप्यूटर पर मौजूद हार्ड ड्राइव की जगह जैसा ही होता है|

शेयर्ड होस्टिंग क्या है?

जिस वह पोस्टिंग में एक से अधिक हिस्सेदार होते हैं उसे शेयर्ड होस्टिंग कहते हैं| यानी कि वेब होस्टिंग को एक से अधिक लोग इस्तेमाल करते हैं|

डोमेन नेम तथा वेबसाइट होस्टिंग में क्या अंतर होता है?

मान लीजिए, आपका एक घर है|  इस घर का एक पता है|  यह घर किसी जगह पर बना हुआ है|  अब इसमें से जो आपके घर का पता है उसे हम डोमेन नेम कह सकते हैं और जिस जगह पर यह घर बना हुआ है उसे हम वेबसाइट होस्टिंग कह सकते हैं|
यानी कि इंटरनेट की दुनिया में डोमेन नेम आपकी वेबसाइट का पता है, तथा जिस जगह आपका सारा डाटा स्टोर है उसे वेबसाइट होस्टिंग कहते हैं|

साथ ही यह भी अवश्य देखें:

खुद का बिजनेस कैसे शुरु करें? (How to start a business)

affiliate marketing क्या होती है?

Payment gateway procedure क्या है?

दुबई में बिजनेस सेटअप कैसे करें? (business setup in Dubai)

दोस्तों, उम्मीद करता हूं आप Dedicated hosting तथा Cloud Hosting के बीच का अंतर समझ गए होंगे!! 

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे अधिक से अधिक मात्रा में शेयर अवश्य करें| 

अगली पोस्ट में मैं फिर मिलूंगा तब तक के लिए नमस्कार 

धन्यवाद 

Previous articleTaliban News: तालिबान ने दिखाया असली चेहरा भारत से आयात-निर्यात पर लगाई रोक
Next articleEntrepreneur meaning in Hindi | आंत्रप्रेन्योर तथा बिजनेसमैन में क्या अंतर होता है?
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!