बिस्कुट बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें? | How to start biscuit making business idea in Hindi?

404

Biscuit ka business kaise kare: इस पोस्ट के माध्यम से आप “Biscuit Business Making Idea” के बारे में जानेंगे| बिस्कुट बनाने का बिजनेस कहीं से भी शुरू हो सकने वाला व्यवसाय है|

यदि यह बिजनेस चल जाए! तो आप, जल्द ही करोड़पति बन जाएंगे! कोरोना काल में बहुत से लोग शहरी जीवन छोड़कर गाँव की ओर चले गए हैं। 

अब! उसमें से कुछ लोग शहरी जीवन में वापस आ गए हैं और कुछ लोग गाँव में किसी व्यवसाय (Business) या खेती में हाथ आजमा रहे हैं!

यदि आप भी इंटरनेट पर “biscuit ka business kaise kare?” टाइप करके इस पोस्ट तक पहुंचे हैं तो आप निराश नहीं होंगे! इस बिजनेस में मंदी की संभावना कम है तथा इससे आप हर महीने बंपर कमाई कर सकते हैं!

कोरोना महामारी के दौरान बिक्री के मामले में biscuit making business ने 80 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा है! 

कोरोना-महामारी के दौरान Parle-G ने बिक्री के मामले में भी पिछले 80 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया था। सरकार द्वारा भी आप इस बिजनेस (Biscuit Business Idea) को शुरू करने में मदद प्राप्त कर सकते हैं|

इसके तहत सरकार की मुद्रा योजना लोन के तहत आपको आसानी से लोन मिल सकता है| बिस्कुट, केक, चिप्स या ब्रेड बनाने के लिए निर्माण इकाई शुरू करने में एक संयंत्र, कम क्षमता वाली मशीनरी और कच्चे माल में निवेश करना होगा।

मुद्रा लोन योजना के तहत व्यवसाय (Business) शुरू करने के लिए आपको केवल एक लाख रुपए का निवेश करना होगा। 

इसके अतिरिक्त कुल खर्च का 80%  तक की राशि सरकार की ओर से मिलेगी। बेकरी प्रोडक्ट के लिए सरकार ने खुद प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार की है। 

इस व्यवसाय (Biscuit Business Idea) के माध्यम से आप आसानी से 50,000 रुपये प्रति माह से अधिक तक कमा सकते हैं!

लोन के बारे में जानने के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

1- एसबीआई मुद्रा लोन कैसे लें

2- Business loan कैसे मिलेगा?

Biscuit Making Business Idea (Biscuit ka business kaise kare)

बिस्कुट प्लांट की कीमत (Biscuit plant price)

इस परियोजना (Biscuit Business Idea) की स्थापना में लगभग 5.56 लाख रुपये खर्च होंगे। यदि आपके पास 1 लाख रुपये की धनराशि है, तो बाकी रकम मुद्रा लोन के जरिए मिल सकती है|

बिस्किट प्लांट के लिए 100 गज तक का स्थान होना आवश्यक है। यदि आपके पास अपनी जगह नहीं है तो इसे किराए पर लेकर प्रोजेक्ट रिपोर्ट के साथ दिखाना होगा। इस प्रकार कुल वार्षिक उत्पादन और बिक्री 5.56 लाख रुपये आंकी गई है।

उत्पादन लागत (production cost): 14.25 लाख रुपये

कारोबार (Turnover): 20.35 लाख रुपये

सकल लाभ (Gross profit): 6.15 लाख रुपये

ऋण ब्याज (loan interest): लगभग 50,000 रुपए 

Income Tax: 15 -17 हजार रुपये

अन्य खर्च : 75 – 85 हजार

शुद्ध लाभ (Net Profit): लगभग 4.50 लाख रुपए 

मासिक आय: 40 – 50 हजार रुपये

बिस्कुट बनाने की कच्ची सामग्री (Biscuit Raw Materials)

बिस्कुट की बहुत सारी वैरायटी मार्केट में मौजूद है, इसलिए हर बिस्कुट को बनाने के लिए एक अलग-अलग तरह की सामग्री तथा रेसिपी का इस्तेमाल किया जाता है|

उदाहरण के लिए अगर आप शुगर फ्री बिस्कुट बनाते हैं तो उसमें कुछ अलग सामग्री का इस्तेमाल किया जाएगा|

इस पोस्ट के माध्यम से मैं आप को साधारण बिस्कुट बनाने में इस्तेमाल होने वाली सामग्री के बारे में बताने जा रहा हूं|

यह इस प्रकार हैं:

1- गेंहू का आटा (Wheat Flour)

गेहूं के आटे के बारे में कौन नहीं जानता! यह आपको कहीं से भी आसानी से मिल जाएगा|  यदि गेहूं के आटे की कीमत की बात करूं तो 25 से ₹30 किलो में यह आपको आसानी से मिल जाएगा|

यदि आप मैदा के बिस्कुट बनाना चाहते हैं तो यह भी गेहूं  की कीमत के आसपास पड़ेगा|

2- चीनी (Sugar)

बिस्कुट बनाने के लिए आपको पिसी हुई चीनी का इस्तेमाल करना पड़ेगा|  यह बाजार में आसानी से उपलब्ध होने वाला प्रोडक्ट है|

बाजार में पिसी हुई चीनी का भाव लगभग ₹40 प्रति किलोग्राम के आसपास है| साथ ही आपको यह भी बता दो कि इसकी कीमत इसकी क्वालिटी के हिसाब से घटती या बढ़ती है| 

यदि आप थोक में बिस्कुट बनाने की सामग्री को खरीदते हैं तो यह काफी सस्ती पड़ सकती है|

3- वनस्पति तेल (Vegetable oil)

इसका इस्तेमाल लगभग हर तरह के बिस्कुट बनाने में किया जाता है|  मार्केट में वनस्पति तेल आपको आसानी से मिल जाएगा|

 इस समय पर वनस्पति तेल की कीमत लगभग ₹50 से शुरू होती है|

4- ग्लूकोज (Glucose)

ग्लूकोज शब्द को ग्रीक भाषा के शब्द “ग्लीको” से लिया गया है इसका अर्थ होता है “मीठा”। यह चीनी का एक प्रकार है, जो आपके शरीर को भोजन से प्राप्त होता है|

यह भी मार्केट में आपको आसानी से मिल जाएगा| 

5- दूध पाउडर (Milk Powder)

dehydration प्रक्रिया के द्वारा दूध को पाउडर में बदल दिया जाता है। इसमें पानी मिलाकर घोलने से पुनः यह दूध में बदल जाता है| 

6- नमक (Salt)

इसमें घर में इस्तेमाल होने वाले नमक को इस्तेमाल किया जाता है| नमक के बारे में तो आपको पता ही होगा कि यह सभी परचून की दुकान पर उपलब्ध होता है| 

7- बेकिंग पाउडर (Baking Powder)

यह बारीक सफेद पाउडर होता है जिसका प्रयोग खमीर पदार्थ के रुप मे किया जाता है। बेकिंग पाउडर एक एसिड (cream of tartar) और खार (बेकिंग सोडा) का मेल होता है।

इसे भी आप कहीं भी मसालों की दुकान से आराम से खरीद सकते हैं| 

8- अन्य सामग्री (other material) 

Edible Colors, Yeast, Flavors Etc

बिस्कुट बनाने की प्रकिया (Biscuit making process in Hindi)

  1. बिस्कुट बनाने के लिए सबसे पहले आप इसमें इस्तेमाल होने वाली सामग्री को मिक्सर की मदद से अच्छी प्रकार मिला ले|
  2. इसके बाद इस सामग्री में पानी तथा आटा मिलाकर तैयार  कर लें|
  3. इस तैयार सामग्री को ड्रॉपिंग मशीन में डालकर किसी विशेष प्रकार का आकार दें|
  4.  आकार देने के बाद इसको बेकिंग मशीन की मदद से बेक करना होगा| 
  5. बेक होने के बाद है बिस्कुट खाने के लिए तैयार हो जाएंगे| 
  6. इसके बाद इन बिस्कुट को पैक करना होगा|

बिस्कुट बनाने की मशीनें (Biscuit Making Machines)

1-  मिक्सर (Mixer)

बिस्कुट बनाने के लिए आपको बहुत सारी सामग्रियों को एक साथ मिलाना होता है| इस कार्य को करने के लिए मिक्सर की जरूरत पड़ती है|

इसकी मदद से आप इस सामग्रियों को आसानी से मिला सकते हैं| एक समय पर मिक्सर की मदद के 20 किलो से अधिक की सामग्री को एक साथ मिक्स किया जा सकता हैं|

ज्यादा सामान मिक्स करने के लिए बड़े मिक्सर की आवश्यकता पड़ेगी|

इस मिशन की कीमत की बात करूँ करें तो ये मशीन एक लाख के अंदर आ जाएगी| ज्यादा पावर वाली मशीन एक लाख से ऊपर की पड़ेगी|

2- बिस्कुट को आकार देने वाली मशीन (biscuit shaping machine- Drooping machine)

इसका इस्तेमाल करके आप अपने बिस्कुट को आकार दे सकते हैं| आपने कई आकार के बिस्कुट देखे होंगे इन बिस्कुट को ये आकार इसी मशीन के जरिए दिया जाता है|

इस मशीन की कीमत की बात करूँ तो आपको ये मशीन चार लाख रूपए से लेकर आठ लाख रूपए तक की कीमत में मिलेगी|

वहीं इस मशीन को खरीदते समय कुछ बातें अवश्य पता करे|

जैसे की: मशीन कितनी देर में कितने बिस्कुट को आकार दे सकती है?, कितने आकार दे सकती है? लोड कितना लेगी?, गारंटी कितनी है?, spare parts कहाँ पर मिलते हैं इत्यादि 

इससे आपको अंदाजा लग जाएगा की आप कितनी प्रोडक्शन कर सकते हैं?

3- बेकिंग ओवन मशीन (Baking Oven Machine)

इस मशीन में बिस्कुट को बेक या पकाया जाता है| इसके बाद बिस्कुट खाने के लिए तैयार हो जाते हैं|

इस मशीन का इस्तेमाल बिस्कुट को बनाने के अलावा केक, मफिन, ब्रेड जैसे बेकरी के उत्पाद बनाने में भी किया जाता है| इस मशीन की कीमत इसकी साइज पर निर्भर करती है| यदि मैं इसकी शुरुआती कीमत की बात करूं तो यह 3.80000 लाख रुपए से शुरू होती है|

4- पैकिंग मशीन (Packing machine)

बिस्कुट बनकर तैयार हो जाने पर इन बिस्कुट को पैकेजिंग करने वाली मशीन की मदद से पैक किया जाता है| ये मशीन आपको 2.80000 लाख से चार लाख के अंदर आ जाएगी|

यदि आपके पास ज्यादा बजट नहीं है, तो आप हाथों से भी इन बिस्कुट को पैक कर सकते हैं, पर ऐसा करने में वक्त ज्यादा लगेगा|

मशीन कहाँ से खरीदे? (Where to buy these machines)

इन मशीनों को आप ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं या फिर आप इंटरनेट के माध्यम से इनके डीलर के बारे में पता करके वहां जाकर इनको खरीद सकते हैं|

Online buy 

https://dir.indiamart.com , https://www.amazon.in 

Offline address प्राप्त करने के लिए 

https://www.justdial.com

बिस्कुट बनाने के व्यापार पंजीकरण (License process)

1- व्यापार के नाम का पंजीकरण करवाना (registering a business name) 

आप को पहले से ही अपने व्यापार का नाम सोच कर रख लेना चाहिए| नाम ऐसा होना चाहिए जो पहले से ही किसी और ने रजिस्टर्ड ना करा रखा हो|

ऐसा करने से आपके नाम को कोई और कंपनियां या फर्म अपने लिए इस्तेमाल नहीं कर सकती| यदि आप अपने प्रोडक्ट को भविष्य में निर्यात करना चाहते हैं तो ऐसा नाम ढूँढे जो बाद में आपके काम आ सके!

नाम किस प्रकार सोचना है? और क्या-क्या देखना चाहिए इसके लिए यह पोस्ट पढ़ लें:

कंपनी क्या होती है?, भारत में कैसे खोले? तथा कंपनी तथा साझेदारी में क्या अंतर होता है?

नाम का चयन करें जो कि बोलने में भी आसान हो| नाम का चयन करने के बाद इसका रजिस्ट्रेशन करवाना होगा|

यदि आप  रजिस्ट्रेशन के विषय में जानना चाहते हैं तो यह पोस्ट भी अवश्य पढ़ें:

Trademark registration कैसे होता है तथा कितनी फीस लगती है? 

2- ट्रेंड लाइसेंस और जीएसटी पंजीकरण (TREND LICENSE AND GST REGISTRATION) 

कोई भी व्यापार शुरू करने के लिए आपको ट्रेड लाइसेंस लेना अनिवार्य है| इसके बाद नंबर आता है जीएसटी रजिस्ट्रेशन का!!

मैंने बहुत सारी वेबसाइट पर यह पढ़ा है कि किसी भी बिजनेस करने के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है! जबकि, यह सत्य नहीं है!

प्रत्येक राज्य में जीएसटी रजिस्ट्रेशन के लिए अलग-अलग सीमाएं निर्धारित की गई हैं| यदि आप जीएसटी के दायरे में आते हैं तब! आपको जीएसटी नंबर लेना अनिवार्य है अन्यथा GST number लेने के लिए कोई बाध्यता नहीं है!

जीएसटी रजिस्ट्रेशन नियम

आप इस वेबसाइट के लिंक को क्लिक करके अपनी संतुष्टि कर सकते हैं: charteredindia.com

जीएसटी के बारे में जाने के लिए पढ़ें: जीएसटी क्या है तथा GST full form

3- एफएसएसएआई सर्टिफिकेट (Food Safety and Standards Authority of India)

ट्रेड लाइसेंस प्राप्त करने के बाद आपको FSSAI (भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण) से लाइसेंस लेना अनिवार्य है, क्योंकि खाने पीने की चीजों की चीजों के लिए इसे अनिवार्य किया गया गए हैं|

दरअसल एफएसएसएआई खाने के उत्पादों की जांच करता है| यदि कोई सामग्री खाने योग्य पाई जाती है तभी इसको बेचने की अनुमति मिलती है|

भारत में किसी भी खाने की चीज को बिना लाइसेंस के नहीं बेचा जा सकता| इस लाइसेंस प्राप्त करने में थोड़ा खर्चा लगता है|

पैकेजिंग और लेबलिंग (Packaging And Labelling)

बिस्कुट को पैक करने के लिए आपको पैकेट बनवाने पड़ेंगे| इन पैकेटों पर आपकी फर्म, बिस्कुट में डाली गई सामग्री, उसको बनाने की तारीख, समाप्ति दिनांक, फर्म का पता, वज़न जैसी चीजों का छपा होना अनिवार्य है| यही नहीं आपके प्रोडक्ट के पैकेट पर FSSAI लिखा होना भी अनिवार्य है|

बिस्कुट को पैक करने के बाद आपको उन्हें एक बॉक्स में डालना होगा| कार्टून बॉक्स पर अपनी फर्म का नाम लिखवा तथा कांटेक्ट नंबर डालना भी ना भूलें|

इससे आपका उत्पाद अच्छा होने पर आपके ग्राहकों की संख्या बढ़ेगी|

इस व्यापार को शुरू करने से पहले किसी ऐसे मैन्युफैक्चरर से संपर्क करना होगा, जो आपको पैकेजिंग के लिए पैकेट और बॉक्स बनाकर दे सके|

इस कार्य को करने के लिए भी आपको कुछ धन की आवश्यकता पड़ेगी!

कैसे करें बिजनेस का प्रोमोशन? (How to promote business)

बाजार में बिस्कुट बनाने वाली बहुत सारी कई कंपनियां मौजूद होने के कारण इसमें बहुत अधिक प्रतिस्पर्धा (Competition) है, इसलिए आपको अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग पर भी खास ध्यान देना पड़ेगा!

शुरुआती समय में आप सस्ते मार्केटिंग वाले ऑप्शन को चुन सकते हैं| 

जैसे-जैसे आप का बिजनेस बढ़ेगा वैसे वैसे आप महंगी मार्केटिंग वाले ऑप्शन को भी चुन सकते हैं जैसे कि: टीवी, रेडियो, समाचार पत्र आदि को चुन सकते हैं|

शुरुआती प्रमोशन के लिए आप अपने स्वयं की वेबसाइट बनाकर इंटरनेट पर इसका प्रचार कर सकते हैं| 

मैं आपको कुछ तरीके बता रहा हूं जिनकी मदद से आप बहुत ही आसानी से अपने बिजनेस का प्रमोशन कर पाएंगे|

इन्हें जानने के लिए यह पोस्ट पढ़े: 

1- Business के लिए website कैसे बनाये?

2- बिना website बनाये online business कैसे करें?

3- फ्री में Business का Online promotion कैसे करें?

बिस्कुट व्यापार में होने वाला मुनाफा (How profitable is a biscuit business?)

आकड़ों के हिसाब से करीब 90% भारतीय लोग बिस्कुट का सेवन करते हैं, ऐसे में आप अंदाजा लगा सकते है कि इस व्यापार में कितना अधिक मुनाफा कमाया जा सकता है!

बिस्कुट बनाने में लाभ इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपने कितना अधिक निवेश किया है! यदि आप अच्छी और महंगी क्वालिटी की महंगी सामग्री का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको शुरुआत में तो कम प्रॉफिट होगा परंतु इसके भविष्य में बहुत ही अच्छे परिणाम होंगे!

पहले से मौजूद कंपनियां 10 रुपए के बिस्कुट के पैकेट पर आसानी से 3 से 4 रूपए का लाभ कमा लेती हैं|

ध्यान रखने वाली बातें (Precaution)

S.NO:बिस्किट व्यापार में ध्यान रखने वाली बातें (Precaution)
1.आप किस प्रकार का बिस्कुट बनाना चाहते हैं इसके लिए पहले ही अच्छी तरह जांच पड़ताल कर लें|  एक बार मन बनाने के बाद आप उसकी मशीनरी खरीदें|  यदि आप जल्दबाजी में कोई निर्णय ले देते हैं तो हो सकता है कि आप किसी और क्वालिटी का बिस्कुट बनाना चाहते हो और आप मशीन किसी और क्वालिटी के लिए  ले आए!
2.बिजनेस की सुरक्षा के लिए शुरूआत में ही इंश्योरेंस जरूर ले लें|  इसका प्रीमियम बहुत अधिक नहीं होता| इंश्योरेंस के बारे में अधिक जानने के लिए यह पोस्ट पढ़े: Fire insurance के फायदे, सिद्धांत तथा शर्तें क्या होती हैं?
3.पहले से स्थापित बिस्कुट बनाने वाली फैक्ट्री में विजिट जरूर करें इससे आपको बहुत अधिक सहायता होगी| अधिकांश लोग विजिट करने के लिए मना नहीं करते हैं| मैं स्वयं गद्दों की मैन्युफैक्चरिंग का व्यवसाय करता हूं| मेरे पास बहुत सारी मशीनें लगी हुई है| उन मशीनों के निर्माताओं से भी मेरी जान पहचान है| जब उनके पास कोई है मशीन खरीदने आता है, तो वह उसका डेमो देने के लिए मेरे से आग्रह करते हैं| जिसको मैं खुशी-खुशी स्वीकार भी कर लेता हूं!
4.यदि आप कारीगर के द्वारा इस व्यवसाय को करना चाहते हैं तो कारीगर बहुत ही कुशल होना चाहिए|
Biscuit business Tips

बिस्कुट बनाने मे सावधानियां (Precautions in making biscuits)

  • सुरक्षा का अच्छी तरह जायजा लें|
  • बिजली के उपकरणों की अच्छी तरह जांच करें|
  • वायरिंग के लिए अच्छी क्वालिटी के तार का इस्तेमाल करें|
  • कारीगरों के लिए सुरक्षा के उचित बंदोबस्त करें|  जैसे कि: दस्ताने, चश्मा, एप्रन इत्यादि 
  • साफ-सफाई: खाने पीने की चीजों को बनाने के लिए साफ सफाई का बहुत अधिक ध्यान रखना चाहिए अन्यथा कीड़े मकोड़े जैसे कि कॉकरोच इत्यादि उन्हें दूषित कर सकते हैं|  इससे आपका FSSAI लाइसेंस तक कैंसिल हो सकता है!
  • आग पकड़ने वाले सामान को बिजली के उपकरणों से उचित दूरी पर रखें| 

साथ ही यह भी अवश्य देखें:

बिजनेस कैसे शुरु करें? (How to start a business)

सबसे ज्यादा कमाई वाला बिज़नेस

एग्रीगेटर बिजनेस मॉडल क्या होता है?

दुबई में बिजनेस सेटअप कैसे करें? (business setup in Dubai)

यदि आपको यह पोस्ट “बिस्कुट बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें? (biscuit ka business kaise kare?): How to start biscuit making business idea in Hindi?” पसंद आई हो कृपया इसे शेयर अवश्य करें!

BUSINESS IDEAS से संबंधित अगली पोस्ट में फिर मिलूँगा|

तब तक के लिए नमस्कार 

धन्यवाद

Previous articleIndia Budget 2022 in Hindi: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में बजट पेश किया, वित्त मंत्री ने दिए ये बड़े तोहफे!
Next articleOnline hoarding business: ऑनलाइन होर्डिंग बिजनेस आइडिया, क्या है?, कैसे शुरु करें, लाइसेंस, कैसे करें?, लागत कमाई एवं लाभ
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!