APEDA में रेजिस्ट्रैशन कैसे करें? | एपीडा के प्रोडक्टस तथा डॉक्यूमेंटस की लिस्ट

181

इस पोस्ट में आप जानेंगे की आप किस प्रकार apeda में registration करवा सकते हैं?, क्या डॉक्यूमेंटस लगेंगे? आपको apeda में रेजिस्ट्रैशन करवाने से क्या लाभ मिलेगा तथा एपीडा में कौन से प्रोडक्टस आते हैं?

एपीडा क्या है?

यह एक export promotion council है| 

APEDA यह एक सरकारी संगठन है जो 1985 में अनुसूचित उत्पादों के निर्यात के संवर्धन और विकास के लिए एक अधिनियम का माध्यम से स्थापित किया गया है। 

apeda अनुसूचित उत्पादों के विकास के लिए वित्तीय सहायता, सूचना तथा दिशा निर्देश प्रदान करता है। एपीडा अधिनियम के तहत  व्याख्यित उत्पादों को अनुसूची उत्पाद कहा जाता है|

ऐसे listed products के exporters को apeda के तहत registration की आवश्यकता होती है।

साथ ही यह अवश्य देखें:

इंडियन ट्रेड पोर्टल के फायदे तथा इसका आयात निर्यात में क्या फ़ायदा है?

APEDA Registration benefits

एपीडा का मकसद जो प्रोडक्टस है की जो प्रोडक्टस एपीडा के अंतर्गत उल्लेखित हैं, उन प्रोडक्टस के निर्यात को बढ़ावा देना और इस विभाग के द्वारा द्वारा केंद्र सरकार के Regulation के तहत विभिन्न कार्यों को प्राप्त करना।

आसान भाषा में समझाऊं तो 

  • जो प्रोडक्टस अपेड़ा के अंतर्गत आते हैं उन प्रोडक्ट के एक्सपोर्ट को बढ़ावा देना|
  • वित्तीय सहायता उपलब्ध कराना
  • सब्सिडी उपलब्ध करवाना
  • Joint venture द्वारा एक्सपोर्ट को बढ़ावा देना|
  • RCMC मुहैया करवाता है|
  • प्रोडक्ट की क्वालिटी के स्टैंडर्डस तय करता है|
  • उनका स्पेसिफिकेशंस तैयार करता है|
  • बूचड़खानो का इंस्पेक्शन करता है| 
  • प्रोडक्ट की पैकेजिंग के तरीके बताता है|
  • आपके प्रोडक्ट का विदेशों में प्रमोशन में मदद करता है|  जैसे कि:-  आप अलग-अलग वेबसाइटों पर आपके प्रोडक्ट को लिस्ट  कैसे कर सकते हैं?, आपको अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग कैसे करनी है?
  • एपीडा के अंतर्गत आने वाला प्रोडक्ट कौन सी कंट्री में ज्यादा बिकता है|
  • आपके प्रोडक्ट के प्रोडक्शन में मदद करता है|
  • हर 3 महीने में आपको अपने प्रोडक्ट की डिटेल जैसे कि आपने कितना प्रोडक्शन किया? कितना सेल किया? इत्यादि की जानकारी एपीडा को देनी होती है जिससे कि वह एनालाइज करके आपकी और बेहतर तरीके से मदद कर सके| 
  • आपका जो प्रोडक्ट है उसकी ट्रेनिंग भी मुहैया करवाता है ताकि आप बेहतर तरीके से परफॉर्म कर सकें|

साथ ही यह अवश्य देखें: एमएसएमई के बारे में सारी जानकारी

Apeda Products list

अनाज तथा अनाज उत्पाद

फल

सब्जी

मांस

पोल्ट्री उत्पाद 

डेयरी उत्पाद

कन्फेक्शनरी

बिस्कुट

बेकरी उत्पाद

शहद

ग्वार गम

गुड़

चीनी उत्पाद

पुष्पकृषि तथा पुष्पकृषि उत्पाद

कोको उत्पाद

चॉकलेट

पुष्प कृषि उत्पाद

अचार

पापड़

मादक तथा गैर मादक पेय

कुक्कुट तथा कुक्कुट उत्पाद

जडी बूटी तथा औषधीय पौधे

चटनी 

पापड़

मूंगफली और अखरोट

कोको तथा उसके उत्पाद

इसके अलावा apeda को चीनी के आयात की निगरानी करने की ज़िम्मेदारी सौंपी गई है|

Apeda registration online apply process

Step 1 

APEDA की वेबसाइट पर साइन अप करें. (होम पेज पर- रजिस्टर मेंबर के बटन पर क्लिक करें).

Step 2 

निर्यातक को अपनी बेसिक डिटेल डालनी है|  जैसे:- IE CODE, Email ID & Mobile number तथा submit का बटन दबाएं 

Step 3 

अब आपकी मेल आईडी तथा मोबाइल पर एक वन टाइम पासवर्ड (OTP)  आएगा| 

जातक को यह दोनों ओटीपी डालकर वेरीफाई करवाना है|इसके बाद उसे प्रोसीड फॉर एप्लीकेशन करना है|

Step 4 

इस वेरिफिकेशनकी पुष्टि होने के बाद निर्यातक को ऑनलाइन एप्लीकेशन भरनी है तथा जो जरूरी कागजात मांगे हैं वह ऑनलाइन जमा करने हैं| इन डाक्यूमेंट्स का जो फॉर्मेट होगा वह केवल JPEG, PDF,PNG ही होना चाहिए| निर्यातक को इस बात की पुष्टि कर लेनी चाहिए कि उसने जो डिटेल डाली है वह बिल्कुल सही है|

साथ ही यह अवश्य देखें: CHA (कस्टम हाउस एजेंट) का एक्सपोर्ट इंपोर्ट बिजनेस में क्या रोल होता है?

Step 5 

इस ऑन-लाइन आवेदन  प्रक्रिया को एक या एक से अधिक सत्रों में दोबारा लॉगिन करके पूरा किया जा सकता है|

इन सारी डिटेल को भरने के बाद निर्यातक को यह सारी डिटेल सेव कर देनी चाहिए|

 जब तक निर्यातक पेमेंट नहीं कर देता तब तक वह अपनी डिटेल को एडिट कर सकता है|

Step 6 

निर्यातक पेमेंट  केवल निम्न तरीकों से कर सकता है:-

ऑफलाइन 

डिमांड ड्राफ्ट के द्वारा-  यह डिमांड ड्राफ्ट “APEDA”  के फेवर में बना होना चाहिए शहर के नाम पर आप संबंधित शहर  का नाम डालें| 

ऑनलाइन

क्रेडिट कार्ड ( मास्टर एंड VISA)

डेबिट कार्ड ( मास्टर एंड VISA)

पेमेंट पूरी होने के बाद एक एप्लीकेशन नंबर जनरेट होगा|

आप इस नंबर को नोट कर के रख लें –  यह भविष्य में आपके काम आ सकता है|

Step 8 

RCMC सर्टिफिकेट बनने के बाद आपकी रजिस्टर्ड ईमेल आईडी पर आपका लॉगइन डिटेल जैसा कि यूजर नेम तथा पासवर्ड आ जाएगा|

अब निर्यातक इसके द्वारा APEDA की वेबसाइट पर लॉगिन कर सकता है

Step 9 

निर्यातक अपने एप्लीकेशन का स्टेटस “Track Application” के बटन को क्लिक करके जान सकता है|

Step 10 

यदि एप्लीकेशन में कोई कमी पाई जाती है तो निर्यातक को फिर से एप्लीकेशन दोबारा से जमा करानी होगी|

Required documents

1. स्वयं द्वारा प्रमाणिक इंपोर्ट एक्सपोर्ट कोड की कॉपी

2.बैंक प्रमाण पत्र

3. निर्यातक अपने आपको मैन्युफैक्चरर एक्सपोर्टर घोषित करता है तो उसे कुछ संबंधित एजेंसियों के प्रमाण पत्रों की भी आवश्यकता होगी जैसे कि:-

PRODUCTSCertification Agencies
बाग़वानी और बीज बाग़वानी विभागDept. of Horticulture/DIC/SIA
फल और सब्ज़ियाँ Deptt. Of Agriculture/ Horticulture
मूंगफली / दलहन / ग्वारगमDIC / SIA / FSSAI 
प्रोसेस्ड फ्रूट्स एंड वेजिटेबल्स / प्रोसेस्ड फूडउत्पाद / माँस उत्पादों / अनाज की तैयारी /विविध तैयारीFSSAI 
डेयरी / पोल्ट्री / हनीFSSAI/EIC/EIA
मादक पेयDept. of Excise Commissioner 
CerealsDIC / SIA / FSSAI 
APEDA PRODUCTS CERTIFICATION AGENCIES

नोट: APEDA से RCMC की मांग के लिए किसी भी दस्तावेज़ की कोई हार्ड कॉपी आवश्यक नहीं है|

साथ ही यह अवश्य देखें: पोर्ट रजिस्ट्रेशन या ए डी कोड रजिस्ट्रेशन के बारे में जाने

APEDA Bank certificate format

apeda
APEDA BANK CERTIFICATE

एपीडा के कार्यालय

APEDA भारत के लगभग सभी कृषि संभावित राज्यों में अपनी पहुँच बना चुका है  तथा अपने 5 क्षेत्रीय कार्यालय, प्रधान कार्यालय और 13 आभासी कार्यालयों के द्वारा कृषि निर्यात समुदाय को सेवाएं प्रदान कर रहा है ।

Apeda के क्षेत्रीय कार्यालय

  • कोलकाता
  • मुंबई
  • हैदराबाद
  • गुवाहाटी
  • बंगलौर

apeda का प्रधान कार्यालय

• नई दिल्ली

APEDA प्राधिकरण के सदस्य

केन्द्र सरकार द्वारा नियुक्त एक अध्यक्ष।

Planning commission के प्रतिनिधि के रूप में केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त एक सदस्य।

दो लोकसभा द्वारा निर्वाचित और एक राज्य सभा द्वारा निर्वाचित सदस्य।

भारत सरकार का कृषि विपणन सलाहकार, जो वर्तमान में पद पर हो।

APEDA में central govt. के मंत्रालयों से संबंध रखने वाले तथा प्रतिनिधित्व करने वाले 8 सदस्य।

(A)  कृषि एवं ग्रामीण विकास

(B)   वाणिज्य

(C)   उद्योग

(D)   वित्त

(E)   खाद्य

 (F)  नागर विमानन

(G)  नागरिक आपूर्ति

(H)   शिपिंग एवं परिवहन

APEDA में केंद्रप्रशासित प्रदेशों और राज्यों के प्रतिनिधि 

अपीडा में प्रतिनिधि के रूप में केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त सात सदस्य हैं-

(A)  भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद

(B)   राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघ

(C)  राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड

(D)  काजू निर्यात संवर्धन परिषद

(E)  भारतीय पैकेजिंग संस्थान

(F)  भारतीय पैकेजिंग संस्थान

(G)  केन्द्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी अनु

केन्द्र सरकार द्वारा APEDA में नियुक्त 12 सदस्य

  1. फल और सब्जी उत्पाद उद्योग
  2. मांस
  3. कुक्कुट और डेरी उत्पाद उद्योग
  4. अन्य अनुसूचित उत्पाद उद्योग
  5. पैकेजिंग उद्योग
  6. कृषि अर्थशास्त्र
  7. LISTED PRODUCTS के विपणन के क्षेत्र में वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों में से केन्द्र सरकार द्वारा नियुक्त 2 सदस्य ।

साथ ही यह अवश्य देखें: एक्सपोर्ट इंपोर्ट में लगने वाले सभी डाक्यूमेंट्स की लिस्ट

Apeda का प्रशासनिक ढांचा

अध्यक्ष – केन्द्र सरकार द्वारा नियुक्त होता है|

निदेशेक – एपीडा द्वारा नियुक्त होता है|

सचिव –  केन्द्र सरकार द्वारा नियुक्त होता है|

अन्य अधिकारी और कर्मचारी – प्राधिकरण द्वारा नियुक्त होते हैं|

एपीडा अधिनियम की धारा 7 (3) में प्रावधान है कि संबंधित विभाग अपने कार्यों अच्छी प्रकार चलाने के लिए अपनी जरूरत के अनुसार  कर्मचारियों तथा अधिकारियों की नियुक्ति कर सकता है|

apeda में टोटल स्वीकृत कर्मचारियों की संख्या विभिन्न श्रेणियों में 124 है ।

वर्तमान में, A,B और C ग्रुप में 30 महिला कर्मचारी हैं । 

एपीडा कार्यालय प्रांगण में एक अलग महिला कक्ष स्थापित किया है ।

सरकार के मानको अनुसार, सभी ग्रेड़ों की कुल संख्या के तीन % पद शारीरिक रूप से  अक्षम व्यक्तियों के लिए आरक्षित है । 

इस समय एपीडा में कुल स्टाफ की संख्या 124 है| इनमें दो शारीरिक रूप से अक्षम कर्मचारी हैं  तथा तीन% की आवश्यकता को अगली भर्ती में पूरा कर लिया जाएगा।

यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो कृपया ब्लॉग को सबस्क्राइब अवश्य करें|

धन्यवाद

Previous articleGST में लैटर ऑफ अंडरटेकिंग का इस्तेमाल कैसे होता है? | LUT in GST in Hindi
Next articleमर्चेंट एक्सपोर्टर कौन होता है? | Merchant Exporter के क्या फ़ायदे तथा नुकसान हैं?
प्यारे दोस्तों, मैं नवीन कुमार एक बिज़नेस ट्रैनर हूँ| अपने इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको - आयात-निर्यात व्यवसाय (Export-Import Business), व्यापार कानून (Business Laws), बिज़नेस कैसे शुरु करना है?(How to start a business), Business digital marketing, व्यापारिक सहायक उपकरण (Business accessories), Offline Marketing, Business strategy, के बारें में बताऊँगा|| साथ ही साथ मैं आपको Business Motivation भी दूंगा| मेरा सबसे पसंदीदा टॉपिक है- “ग्राहक को कैसे संतुष्ट करें?-How to convince a buyer?" मेरी तमन्ना है की कोई भी बेरोज़गार न रहे!! मेरे पास जो कुछ भी ज्ञान है वह सब मैं आपको बता दूंगा परंतु उसको ग्रहण करना केवल आपके हाथों में है| मेरी ईश्वर से प्रार्थना है की आप सब मित्र खूब तरक्की करें! धन्यवाद !!